युवा गेंदबाज वाशिंगटन सुंदर ने अश्विन की जगह ‘काफी अच्छी’ गेंदबाजी की

ब्रिसबेन . आस्ट्रेलिया के सहायक कोच एंड्रयू मैकडोनल्ड ने अंतिम टेस्ट के लिए भारत के अनुभवहीन गेंदबाजी आक्रमण की सराहना की और विशेषकर वाशिंगटन सुंदर की प्रशंसा कर कहा कि युवा ऑफ स्पिनर ने रविचंद्रन अश्विन की जगह उतरकर ‘काफी अच्छी’ गेंदबाजी की. कई खिलाड़ियों के चोटिल होने के कारण भारत ने पदार्पण करने वाले वाशिंगटन और मध्यम गति के गेंदबाज टी नटराजन को अंतिम एकादश में शामिल किया.

ये दोनों नेट गेंदबाज के तौर पर टीम के साथ थे. मैकडोनल्ड ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा कि मुझे लगा कि वे काफी निरंतर रहे. मुझे लगा कि विशेषकर वाशिंगटन सुंदर काफी अनुशासित था और उसने रवि अश्विन के स्थान पर उनकी भूमिका को अच्छी तरह निभाया और कसी गेंदबाजी की और वह इस दौरान कुछ विकेट भी हासिल करने में सफल रहा.

इंडियन प्रीमियर लीग में कोचिंग देने वाले मैकडोनल्ड मध्यम गति के गेंदबाज नटराजन से भी काफी प्रभावित थे. उन्होंने कहा कि इसलिए मुझे लगता है कि वह ऐसा गेंदबाज है जिसने खेल की लय पर लगाम कसे रखी और मैं इससे काफी प्रभावित हुआ. नटराजन भले ही अनुभवहीन हो लेकिन वह इस दौरे पर अपना पहला टेस्ट मैच खेलने के लिये काफी प्रथम श्रेणी मैच खेल चुके हैं और यह शानदार उपलब्धि है इसलिये मुझे लगता है कि उन्होंने अच्छा किया.

बांये हाथ के गेंदबाज ने दौरे पर सीमित ओवरों के चरण में अपनी गेंदबाजी से प्रभावित किया था, जिससे पहले उन्होंने आईपीएल (Indian Premier League) में शानदार प्रदर्शन से भारतीय टीम में जगह बनाई थी. आस्ट्रेलियाई टीम बारिश से बाधित दूसरे दिन के पहले सत्र में 369 रन पर सिमट गई. वाशिंगटन और नटराजन की तरह शारदुल ठाकुर ने भी तीन विकेट चटकाए.

Check Also

चौथे टेस्ट में बल्लेबाजों की सहायक होगी पिच !

अहमदाबाद (Ahmedabad) . भारत और मेहमान टीम इंग्लैंड के बीच 4 मार्च से शुरू होने …