यूक्रेन की एयरलाइंस पर स्नीकर, ट्राउजर में होंगी महिला कर्मचारी

कीव किसी भी एयरलाइंस में काम करने वाली महिला कर्मचारियों को आमतौर पर काफी औपचारिक परिधान पहनने पड़ते हैं. ज्यादातर जगहों पर स्कर्ट, सूट और हाई-हील में उन्हें काम करना होता है. अब यूक्रेन की एक एयरलाइंस ने इस ट्रेंड पर बड़ा बदलाव लाने का फैसला किया है. स्कायअप एयरलाइंस का कहना है कि उसने अपने क्रू को इसे लेकर विकल्प दे रखा है. वे चाहें तो विमान पर स्नीकर और ट्राउजर पहन सकते हैं. स्टाफ का सर्वे करने के बाद एयरलाइंस को पता चला था कि महिला कर्मचारी हाई-हील, पेंसिल स्कर्ट और टाइट शर्ट से परेशान हो गई हैं. फ्लाइट अटेंडेंट डारिया सोलोमेनाया ने बीबीसी को बताया है 12 घंटे खड़े-खड़े कीव से जांजिबार जाना और आना. अगर आपने हाई हील पहनी है तो आप बाद में चल भी नहीं सकते हैं. इसमें सिक्यॉरिटी चेक और क्लीनिंग शामिल होता है.

उनका कहना है कि इसकी वजह से कई लोगों के पैरों, पैरों की उंगलियों और नाखूनों को स्थीय नुकसान हो गया है. इसी तरह टाइट कपड़ों से भी सेहत को नुकसान हो रहा है. डारिया ने बताया है कि फ्लाइट अटेंडेंटे्स को कभी इमर्जेंसी में कोई काम करना पड़ सकता है. यह सोचा जा सकता है कि ऐसे कपड़ों में यह कैसे किया जाएगा. अब स्कायअप ने यह बदलाव लाने का फैसला किया है. एयरलाइंस के पैसेंजर जल्द ही नई यूनिफॉर्म में नजर आएंगे. वे नाइक एयर मैक्स 720 स्नीकर पहन सकेंगे जो सारा दिन कंफर्ट देने के लिए लिए बनाए गए हैं. एयरलाइंस का कहना है सूट और स्कर्ट अब नहीं पहनने होंगे बल्कि ट्राउजर सूट और ट्रेंच कोट को यूनिफॉर्म में शामिल किया जाएगा. कंपनी का कहना है कि बदलते वक्त के साथ ‘चैंपियन’ महिलाओं की छवि बदल गई है. इसमें परंपरागत स्कर्ट, सूट और बालों की जूड़े की जगह आरामदायक परिधान शामिल हैं.

Check Also

चीन ने भारत से जुड़े सीमा क्षेत्र का नया जनरल बनाया

बीजिंग . चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की वेस्टर्न थिएटर कमांड में बदलाव किया …