पत्नी ने पति के अवैध संबंध के शक में रिसेप्शनिस्ट और बेटे को जिंदा जलाया


भरतपुर. राजस्थान के भरतपुर स्थित श्रीराम अस्पताल की रिसेप्शनिस्ट दीपा उर्फ रीया और उसके 8 साल के बेटे शौर्य को अवैध संबंधों के शक में जिंदा जला दिया गया है. बताया गया ‎कि वो मदद के लिए चिल्लाती रही, इस दौरान जब उसे बचाने उसका भाई अनुज पहुंचा तो वो भी झुलस गया. इसके बाद तीनों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां दीपा और शौर्य को मृत घोषित कर दिया गया और अनुज को गंभीर हालात में जयपुर रैफर किया गया.

इस दौरान भरतपुर पुलिस ने बताया ‎कि महिला और उसके बेटे को जिंदा जलाने के मामले की शुरुआती जांच में डॉक्टर सुदीप गुप्ता और दीपा के बीच अवैध संबंध सामने आएं हैं. बताया गया ‎कि डॉ. सुदीप की पत्नी डॉ. सीमा गुप्ता और उसकी सांस सुरेखा गुप्ता को आग लगाने के आरोप में हिरासत में ले लिया गया है. आग लगने के बाद मकान के आसपास भीड़ जमा हो गई. इस दौरान वहां मौजूद डॉ. सीमा और उसकी सास सुरेखा लोगों से कह रही थी, हमने लगाई आग कोई बचा सको तो बचा लो. इस दौरान प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा ‎कि डॉ. सीमा ने अपने पति को फोन कर आग लगाने की जानकारी दी थी.

इसके बाद डॉ. सुदीप भी मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक आग विकराल हो चुकी थी. वहीं, दीपा के पड़ोसियों ने बताया ‎कि आगजनी के पहले उसके कीचन से आवाज सुनाई दी थी. दीपा जोर-जोर से फोन पर अपने भाई को घर में आग लगाने की बात कह रही थी. इसके बाद वहां भाई अनुज पहुंचा और जान की परवाह किए बिना कंबल लपेट आग में कूद गया. इसके बाद उसने बहन और भांजे को बचाने की पूरी कोशिश की, लेकिन वह बच नहीं सके. हालां‎कि खुद अनुज का जयपुर में गंभीर हालत में इलाज चल रहा है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today