नई दिल्ली, 3 अप्रैल . भाजपा राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े ने कांग्रेस के विज्ञापन पर सवाल खड़ा करते हुए राहुल गांधी से तीन सवाल पूछे हैं.

भाजपा राष्ट्रीय मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होने कहा है कि कांग्रेस के विज्ञापन आने लगे हैं, लेकिन उसमें कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे की फोटो नहीं है, यहां तक कि राहुल गांधी और सोनिया गांधी की भी तस्वीर नहीं है.

तावड़े ने कटाक्ष करते हुए पूछा कि क्या कांग्रेस को यह डर सता रहा है कि नेताओं की फोटो लगाने से उनके वोट कम हो जाएंगे. विपक्षी गठबंधन की एकता पर सवाल उठाते हुए भाजपा महासचिव ने कहा कि ये सभी दल रामलीला मैदान में एक साथ आएं, लेकिन वायनाड में सीपीआई राहुल गांधी के खिलाफ और पश्चिम बंगाल में टीएमसी लोकसभा में उनके नेता (अधीर रंजन चौधरी) के खिलाफ चुनाव लड़ रही है.

उन्होंने पूछा कि यह गठबंधन है या विघटबंधन? तावड़े ने वायनाड में एसडीपीआई का समर्थन लेने के लिए निशाना साधते हुए कहा कि एसडीपीआई प्रतिबंधित संगठन पीएफआई का पॉलिटिकल फ्रंट है, जिस पर कांग्रेस शासित राज्य कर्नाटक में भी प्रतिबंध है.

उन्होंने कहा कि आतंकवाद के प्रति कांग्रेस का यह प्रेम लगातार जारी है. कांग्रेस यह बताए कि क्या यह उनके मोहब्बत की दुकान में आती है क्या ? क्या आतंकवाद भी उनकी मोहब्बत की दुकान का प्रोडक्ट है ? क्या कांग्रेस इसे ही बदलाव मानती है ?

एसटीपी/एबीएम