वरूण गांधी ने लखीमपुर की घटना को ‘हिंदू बनाम सिख’ बनाने की कोशिश का लगाया आरोप


लखनऊ (Lucknow) . भारतीय जनता पार्टी के सांसद (Member of parliament) वरूण गांधी के तेवर बगावती हो चले हैं. वह लगातार किसानों के पक्ष में बयान और ट्वीट कर रहे हैं. उनके इस रवैये से भाजपा और सरकार दोनों के लिए बड़ी ही असहज स्थिति उत्पन्न हो गयी है. खासतौर पर लखीमपुर खीरी में बीती तीन अक्टूबर को हुई वारदात के बाद तो भाजपा सांसद (Member of parliament) कुछ ज्यादा ही मुखर हो गये हैं. संभव है उनके इसी रवैये को देख भाजपा की नवगठित राष्ट्रीय कार्यसमिति से ना सिर्फ उन्हें बल्कि उनकी मां एवं सांसद (Member of parliament) मेनका गांधी को भी बाहर कर दिया गया हो. इसस बेपरवाह वरुण गांधी ने रविवार (Sunday) को आरोप लगाया कि लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा की घटना को हिन्दू बनाम सिख बनाए जाने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा कि यह कोशिश ना सिर्फ ‘‘अनैतिक व गलत धारणा’’ पैदा करने वाली है बल्कि ‘‘खतरनाक’’ भी है.
भाजपा सांसद (Member of parliament) ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘लखीमपुर खीरी की घटना को हिन्दू बनाम सिख की लड़ाई बनाने की एक कोशिश हो रही है. यह ना सिर्फ अनैतिक व गलत विमर्श पैदा करने वाली है बल्कि ऐसी कोई रेखा खींचना और उनके घावों को हरा करने का प्रयास, जिसे भरने में पीढ़ियां खप गईं, खतरनाक है. हमें राजनीतिक फायदे के लिए राष्ट्रीय एकता को ताक पर नहीं रखना चाहिए.’’

उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी में न्याय के लिए संघर्ष गरीब किसानों की निर्दयीहत्या (Murder) को लेकर है और इसका किसी धर्म विशेष से कोई लेनादेना नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘प्रदर्शनकारी किसानों को खालिस्तानी बताया जाना ना सिर्फ हमारी सीमाओं की सुरक्षा के लिए लड़ने और खून बहाने वालों देश के महान सपूतों का अपमान है बल्कि राष्ट्रीय एकता के लिए खतरनाक भी है, यदि इससे गलत प्रकार की प्रतिक्रया हो जाए तो.’’

विदित हो कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में गत रविवार (Sunday) को उप मुख्यमंत्री (Chief Minister) केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध करने के दौरान हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) पुलिस (Police) के एक विशेष जांच दल (एसआईटी) ने हिंसा के सिलसिले में आशीष मिश्रा को शनिवार (Saturday) को करीब 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया.
जितेन्द्र

 

Check Also

ममता बनर्जी और उनकी पार्टी बीजेपी की बी टीम की तरह काम करती : अधीर रंजन चौधरी

नई दिल्‍ली . लोकसभा (Lok Sabha) में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने पश्चिम …