वल्लभगनर का किसान पुत्र बना दुबई का बिजनेस ताइकुन

उदयपुर (Udaipur). उदयपुर (Udaipur) के एक छोटे से कस्बे वल्लभनगर में रहने वाले शंकर लाल गुर्जर ने दुबई में अपनी सफलता का परचम लहराया है. वल्लभनगर तहसील की तारावट ग्राम पंचायत के एक छोटे से गांव शोभागपुरा में किसान परिवार में जन्मे शंकरलाल कई वर्षों पहले मुंबई (Mumbai) चले गए थे और वहां 75 रुपये मासिक मेहनताना में नोकरी शुरू की, लेकिन अपने कुकिंग के जुनून के साथ ही कुछ वर्षों पहले दुबई चले गए ओर आज तीन कंपनियों के मालिक हैं. उदयपुर (Udaipur) के छोटे से कस्बे में पले – बढ़े शंकरलाल ने दुबई में डॉक्टर (doctor) भीम राव अंबेडकर जयंती पर इतना विशाल आयोजन कर डाला जिसे देखकर सभी प्रवासी राजस्थानी हैरान रह गए.

शेरेटन दुबई के क्रीक होटल (Hotel) टॉवर में भारत रत्न डॉक्टर (doctor) भीमराव अंबेडकर के 130 वें जन्मदिन पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें बिहार (Bihar) सरकार के लघु सिंचाई एवं एससी एसटी कल्याण मंत्री संतोष कुमार सुमन खुद बतौर अतिथि मौजूद रहे. कार्यक्रम में बाबा साहब के साहित्य और श्रमिकों को खाद्य सामग्री का वितरण भी किया गया. अंबेडकर ग्लोबल के चीफ एडवाइजर राजस्थान (Rajasthan)के वल्लभनगर तहसील मुरडिया निवासी समाजसेवी शंकर लाल गुर्जर ने दुबई में रहकर अंबेडकर के विचार और सिद्धांतों को जीवंत बनाते हुए आमजन तक पहुंचाने का बेहतरीन काम किया है.

बिहार (Bihar) सरकार के मंत्री सन्तोष सुमन ने लोगों को संबोधित करते हुये कहा कि पूरी दुनिया में डॉ. अंबेडकर की शिक्षा आज भी प्रासांगिक है. हर किसी के लिए समानता की जरूरत है. इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हम बिहार (Bihar) में प्रयासरत है. बाबा साहेब के सपनों को जमीन पर उतारने के लिए सरकार और लोगों को एक साथ मिलकर काम करना होगा. संतोष कुमार सुमन ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए विदेश में रह रहे  राजस्थानियो के योगदान की भी सराहना की और अंबेडकरग्लोबल.कॉम का एक उदाहरण के तौर पर वर्णन किया.

इस कार्यक्रम का आयोजन अंतरराष्ट्रीय संगठन अंबेडकरग्लोबल.कॉम द्वारा किया गया था. पूर्व सांसद (Member of parliament) व जदयू के जनरल सेक्रेटरी केसी त्यागी और बीसीसीआई के वाइस प्रेसिडेंट राजीव शुक्ला इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे. समाज के उत्थान के लिए काम कर रहे बहुत सारे भारतीय नेताओं ने भी इस कार्यक्रम में भाग लिया.  इस अवसर पर जदयू के जनरल सेक्रेटरी त्यागी ने भी डॉ. अंबेडकर की शिक्षाओं का अनुसरण करने पर जोर दिया. त्यागी ने कहा कि हमारा देश कितना विकसित हो चुका है मायने नहीं रखता, डॉ. अंबेडकर से सीखने के लिए हमेशा बहुत कुछ रहेगा.

क्या है अम्बेडकरग्लोबल.कॉम

अंबेडकर ग्लोबल एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है जिसकी स्थापना दुबई स्थित शंकर लाल गुर्जर द्वारा किया गया है. लॉकडाउन (Lockdown) के समय उनके द्वारा इस तरह के कार्यक्रम का आयोजन करना और चार्टेड हवाई जहाज की व्यवस्था करना निसंदेह सराहनीय है. यूएई की उनकी टीम में शिवांगी ओझा, विकास कुमार सिंह, मानस कुमार पांडे और शंकर लाल गुर्जर भी शामिल हैं. गौरतलब है कि यूएई में लगभग 2.7 मिलियन भारतीय कार्यरत है जिनमें 2  मिलियन सिर्फ मजदूर हैं जो भारत के कमजोर तबके से आते हैं.

Check Also

विधाधर नगर पुलिस ने अवैध शराब बेचने वालों के विरुद्ध दो बड़ी कार्यवाही में 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया

जयपुर . शहर में विधाधर नगर थाना पुलिस ने अवैध शराब बेचने वालों के विरुद्ध दो …