मानवाधिकार उल्लंघन में अमेरिका ने क्यूबा के गृहमंत्रालय और उसके प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल पर प्रतिबंध लगाया

लॉस एंजेल्स . अमेरिका के वित्त विभाग ने क्यूबा के गृह मंत्रालय (Home Ministry) और उसके नेता पर मानवाधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए उन पर पाबंदियां लगाई हैं. वित्त विभाग के इस कदम से क्यूबा के मंत्रालय और उसके प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल लाजारो अल्बर्टो अलवारेज कासास के अमेरिका में मौजूद बैंक (Bank) खातों पर रोक लग जाएगी तथा अमेरिकी कंपनियों के साथ उनके व्यवसायिक कामकाज पर भी पाबंदी लग जाएगी.

वित्तमंत्री स्टीवन मनुचिन ने अपने एक बयान में कहा कि क्यूबा तथा दुनियाभर में मानवाधिकारों से जुड़े संकटों को दूर करने के लिए अमेरिका हर संभव प्रयास करता रहेगा. अमेरिका की सरकार की ओर से जारी बयान में क्यूबा के असंतुष्ट नेता जोस डेनियल फेरर के मामले का जिक्र किया गया है, जिन्हें गृह मंत्रालय (Home Ministry) के अधीन आने वाली जेल में कैद करके रखा गया है. खबर है कि फेरर का उत्पीड़न किया गया, उनसे मारपीट हुई तथा उन्हें जेल में चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाने से भी इनकार कर दिया गया.

क्यूबा की सरकार असंतुष्टों पर आरोप लगाती है कि उन्हें अमेरिकी समूहों की ओर से पैसा मिल रहा है, जो समाजवादी सरकार को बदनाम करना चाहते हैं. इससे पहले, गत सितंबर में अमेरिकी विदेश विभाग ने क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति तथा क्यूबा की कम्युनिस्ट पार्टी के नेता राऊल कास्त्रो एवं उनके चार बच्चों पर प्रतिबंध लगाए थे.

Check Also

कोरोना से ठीक होने के बाद भी नहीं टलता मौत का खतरा

वाशिंगटन . कोरोना से ठीक हो चुके लोगों में अगले छह महीनों तक मौत का …