दक्षिण एशिया और हिंद प्रशांत क्षेत्र की चुनौतियों का मिलकर सामना करने पर अमेरिका-बांग्लादेश ने जताई सहमति


वाशिंगटन . अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन ने बांग्लादेश के अपने समकक्ष एके अब्दुल मोमन के साथ आर्थिक, रक्षा और आतंकवाद रोधी सहयोग को गहरा करने के तरीकों पर चर्चा की. फोन पर की गई बातचीत में दोनों नेताओं ने दक्षिण एशिया तथा बृहद् हिंद-प्रशांत क्षेत्र की चुनौतियां का मिलकर सामना को लेकर सहमति जताई. इस दौरान दोनों ने म्यांमार में जारी गतिरोध, रोहिंग्या शरणार्थी संकट के स्थाई समाधान और श्रमिक एवं मानवाधिकारों का सम्मान किए जाने की आवश्यकता पर चर्चा की. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने एक बयान में बताया कि ब्लिंकन और मोमन ने आर्थिक, आतंकवाद रोधी कदमों तथा रक्षा सहयोग को गहरा करने और जलवायु परिवर्तन जैसी साझा चुनौतियों से निपटने के लिए मिलकर काम करने के तरीकों पर भी चर्चा की.

प्राइस ने कहा ब्लिंकन ने 2021 में बांग्लादेश की स्वतंत्रता की पचासवीं वर्षगांठ के लिए विदेश मंत्री मोमन को शुभकामनाएं दी और दोनों नेताओं ने दक्षिण एशिया तथा बृहद् हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चुनौतियों से निपटने के लिए निकट सहयोग की इच्छा व्यक्त की. वहीं, ब्लिंकन ने मोमन से बातचीत के बाद ट्वीट किया विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमन से बात कर अच्छा लगा और उन्हें बांग्लादेश की स्वतंत्रता की पचासवीं वर्षगांठ के लिए शुभकामनाएं दी. हमने अमेरिका और बांग्लादेश संबंधों को मजबूत करने की पुष्टि की और दक्षिण एशिया तथा हिंद-प्रशांत में पेश आने वाली चुनौतियों से मिलकर निपटने को उत्साहित हैं. क्षेत्र में चीन की बढ़ती सैन्य कार्रवाई के मद्देनजर भारत, अमेरिका और कई अन्य विश्व शक्तियां स्वतंत्र, मुक्त और समृद्ध हिंद-प्रशांत सुनिश्चित करने को लेकर बातचीत कर रही हैं.

Check Also

फिर खुला माउंट एवरेस्ट

काठमांडू . बीते साल कोरोना संक्रमण के चलते नेपाल ने पवर्तारोहण पर रोक लगा दी …