हिमाचल सरकार द्वारा स्कूली बच्चों की मुफ्त वर्दी योजना बंद करना दुर्भाग्यपूर्ण : भाजपा

bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp
bjp

शिमला, 09 मार्च . हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)में विपक्षी दल भाजपा ने सत्तासीन कांग्रेस सरकार पर स्कूली बच्चों की मुफ्त वर्दी योजना को बंद करने का आरोप लगाया है. भाजपा का कहना है कि सरकार का यह कदम दुर्भाग्यपूर्ण है. पिछली भाजपा सरकार ने जयराम ठाकुर के नेतृत्व में पहली कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को मुफ्त में वर्दी प्रदान की थी और उसके साथ-साथ पहली से 10 वीं कक्षा के विद्यार्थियों को 200 रू वर्दी सिलाई की भी उपलब्ध करवाए जाते थे, लेकिन कांग्रेस सरकार ने आते ही इस वर्दी को बंद कर दिया है.

गुरुवार (Thursday) को राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल से मुलाकात के बाद जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि भाजपा सरकार स्कूलों में 8 लाख बच्चों को वर्दी मुफ्त प्रदान करती थी और यह कांग्रेस सरकार केवल 3.70 लाख बच्चों को केवल 600 रू वर्दी हेतु प्रदान करेगी. यह 600 रू भी केंद्र की स्कीम के अंतर्गत हिमाचल को मिल रहे है, इसका मतलब हिमाचल का योगदान शून्य है.

सुरेश कश्यप ने कहा कि हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)लोकतंत्र प्रहरी सम्मान योजना भी इस सरकार ने बंद कर दी है, जोकि अपने आप में एक बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बात है. यह योजना उन लोगों के लिए शुरू की गई थी जिन्होंने इमरजेंसी (Emergency) के दौरान जेल काटी थी और जो लोग जेल में रहे थे.

उन्होंने कहा कि वह लोग आज बुजुर्ग हो चुके हैं या उनकी विधवाओं को यह पेंशन लगी थी, मिसा एक्ट 1971 या डिफेंस ऑफ इंडिया रूल 1971 में इमरजेंसी (Emergency) के दौरान हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)के कई लोकतंत्र प्रहरियों ने जेल काटी थी.

कश्यप ने कहा कि पूर्व की जय राम ठाकुर सरकार ने इस योजना को लेकर एक्ट बनाया था और इस एक्ट को केवल विधानसभा में निरस्त किया जाता है. इसको लेकर भी हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)के लोकतंत्र प्रहरी नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर और भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व के साथ 14 मार्च को राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल से मिलेंगे.

सुरेश कश्यप ने कहा कि राज्य सरकार (State government) के फैसलों के खिलाफ भाजपा की जिला आक्रोश रैली पूरे प्रदेश भर में चल रही है और 13 मार्च को भाजपा जिला शिमला (Shimla) में आक्रोश रैली का आयोजन करेगी. इसके उपरांत भाजपा विधायक दल के नेता राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल को पूरे प्रदेश भर से आए हस्ताक्षर एकत्र कर सौंपेगी.

/उज्जवल