टोक्यो ओलंपिक को लेकर मध्यस्थ की भूमिका निभाये संयुक्त राष्ट्र : गोस्पर

सिडनी . अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के पूर्व उपाध्यक्ष केविन गोस्पर के अनुसार कोरोना महामारी (Epidemic) को देखते हुए टोक्यो ओलंपिक पर संयुक्त राष्ट्र को अपनी मध्यस्थ की भूमिका निभानी चाहिये. ओलंपिक खेलों का उद्घाटन 23 जुलाई को हाना है पर टोक्यो, जापान और विश्व भर में कोविड-19 (Covid-19) के बढ़ते मामलों के कारण इसके आयोजन को लेकर अब भी आशंकाएं बनी हुई हैं.

गोस्पर अब भी आईओसी के मानद सदस्य हैं और उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय प्रसारक के साथ बातचीत में यह सुझाव दिया है. उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘अगर आप यह पता करने के लिये कि तीसरे पक्ष के पास जाते हैं कि वैश्विक कोविड महामारी (Epidemic) और उसके प्रभाव के कारण यह केवल खेल या राष्ट्रीय हित से जुड़ा मसला नहीं है तो तब यह मामला संयुक्त राष्ट्र के पास जा सकता है और खेलों के आयोजन का फैसला करने में उसे मध्यस्थ के रूप में शामिल किया जा सकता है.’’ वहीं आईओसी और स्थानीय आयोजकों का कहना है कि इस बार ओलंपिक खेल स्थगित नहीं किये जा सकते हैं क्योंकि ऐसा करने पर इन्हें रद्द करना पड़ेगा.

Check Also

चौथे टेस्ट में बल्लेबाजों की सहायक होगी पिच !

अहमदाबाद (Ahmedabad) . भारत और मेहमान टीम इंग्लैंड के बीच 4 मार्च से शुरू होने …