उदयपुर में कबाड़ के व्यापारी ने सरकार को लगाया 14.13 करोड़ की जीएसटी का चूना, गिरफ्तार


फर्जी जीएसटी क्रेडिट शो करने के लिये फर्जी फर्म और फर्जी बिलों का सहारा लेता था पवन कुमार शर्मा

उदयपुर (Udaipur) . लेकसिटी उदयपुर (Udaipur) में कबाड़ का व्यापार करने वाले व्यापारी पवन कुमार शर्मा ने जीएसटी की चोरी कर सरकार को 14 करोड़ 13 लाख रुपये का चूना लगा दिया. सेंट्रल जीएसटी की टीम ने आज उसे गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी व्यापारी पंजाब (Punjab) के गेविंदगढ़ का रहने वाला है.

पूछताछ के बाद उसे न्यायालय में पेश करने के लिये जोधपुर (Jodhpur) ले जाया गया है. पवन कुमार शर्मा कर चोरी के मामले में आदतन अपराधी है. जीएसटी की उदयपुर (Udaipur) युनिट पिछले तीन महीने से उसकी तलाश में थी. पवन कुमार शर्मा फर्जी जीएसटी क्रेडिट शो करने के लिये फर्जी फर्म और फर्जी बिलों का सहारा लेता था.

जीएसटी विभाग की उदयपुर (Udaipur) युनिट को जब इस फर्जीवाड़े के बारे में जानकारी मिली तो उसने उसकी तलाश शुरू की. पवन कुमार शर्मा वह उदयपुर (Udaipur) और इसके आसपास के जिलों से छोटे कबाड़ियों से कबाड़ खरीद कर राजस्थान, गुजरात (Gujarat) और दिल्ली से फर्जी बिल बनवाता था. इन बिलों में जीएसटी क्रेडिट फर्जी बताया जाता. इसी फंडे से वह जीएसटी चोरी कर रहा था. जीएसटी टीम की पूछताछ में सामने आया कि पवन कुमार शर्मा अब तक करीब आठ से दस फर्जी कंपनियां बना चुका है. ये कंपनियां फर्जी दस्तावेजों के आधार पर बनाई गई थी.

इनमें एक दो महीने में ही करोड़ों रुपये का ट्रांजेक्शन करने के बाद उन्हें बंद कर दिया जाता था. प्रारंभिक जानकारी के अनुसार वह फर्जी कंपनियों के जरिये अब तक करीब 80 करोड़ रुपये के आसपास का ट्रांजेक्शन बता चुका है. अभी इस मामलें में और भी जांच की जायेगी. उससे यह आंकड़ा बढ़ने की संभावना है. जीएसटी उदयपर कमिश्नरेट की एंटी एवेजन ब्रांच ने इस आरोपी को गिरफ्तार करने में तीन महीने तक कड़ी मेहनत की.

Check Also

देश के 3 बड़े डॉक्टरों की राय : रेमडेसिविर रामबाण नहीं, इसकी जरूरत काफी कम मरीजों को; ईमानदारी से इस्तेमाल करें तो कमी नहीं होगी

नई दिल्ली (New Delhi) . देश में कोरोना की दूसरी लहर में अस्पताल बेड से …