टीएमसी का राहुल गांधी पर तंज पार्ट टाइम पॉलिटिशियन की तरह ट्विटर पर नहीं रहते

नई दिल्ली (New Delhi) . तृणमूल कांग्रेस ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर तंज कसा है. दरअसल राहुल गांधी को जब लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत नहीं मिली थी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने टीएमसी नेताओं को जिस तरह इस कांड के पीड़ित परिवारों से मिलने दिया वैसे ही कांग्रेस नेताओं को भी इजाजत दें. राहुल गांधी के इसी बयान पर अब तृणमूल कांग्रेस ने पलटवार करते हुए तंज कसा है. टीएमसी के महासचिव और प्रवक्ता कुणाल घोष ने ट्वीट कर कहा, ‘राहुल गांधी को लोगों को तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर लोगों को गुमराह नहीं करना चाहिए. टीएमसी किसी भी पार्ट टाइम पॉलिटिशयन की तरफ से गैर-राजनीतिक कमेंट को स्वीकार नहीं करेगी जो बीजेपी का सामना करने में नाकाम रही. हम कांग्रेस का सम्मान करते हैं. हम गैर भाजपाई एकता के समर्थन में हैं. हम सड़क पर हैं सिर्फ ट्विटर में नहीं.’ उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को यह समझना चाहिए कि ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस के सांसद (Member of parliament) अब लंबी लड़ाई के बाद लखीमपुर खीरी में हैं. बता दें कि लखीमपुर खीरी में हुई घटना के बाद वहां भाजपा विरोधी दलों के नेता धीरे-धीरे पहुंच रहे हैं. टीएमसी के नेताओं के अलावा भीम आर्मी के सदस्य भी लखीमपुर खीरी गए थे. राहुल गांधी ने कहा ता कि योगी सरकार कांग्रेसी नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत नहीं दे रही है. उनके इस बयान के बाद अब टीएमसी ने कांग्रेस को ‘हारनेवाला’ कह कर उसपर व्यंग्य बाण छोड़े हैं. टीएमसी नेता कुणाल घोष के इस बयान के बाद अब बंगाल कांग्रेस नेताओं की प्रतिक्रिया भी सामने आई है. बंगाल कांग्रेस के प्रवक्ता सौम्या रॉय ने कहा, ‘देश की जनता इस बात की गवाह है कि किसानों ने कांग्रेस को खड़ा किया और इसके बाद यह भाजपा विरोधी चेहरा बनी. सच्चाई यह है कि टीएमसी नेताओं को आसानी से लखीमपुर खीरी जाने दिया गया. जिससे यह भी पता चलता है कि बीजेपी और टीएमसी अंदर ही अंदर एक साथ हैं. कुछ इस तरह से बीजेपी विपक्षी दल को कमजोर बनाना चाहती है.’ टीएमसी सांसद (Member of parliament) ककाली घोष दस्तीदार उन नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने लखीमपुर खीरी का दौरा किया था. उन्होंने पत्रकारों से कहा कि टीम लखीमपुर खीरी इसलिए पहुंच सकी क्योंकि सोमवार (Monday) को जब सदस्य लखनऊ (Lucknow) पहुंचे तब उन्होंने उस समय पर ध्यान नहीं दिया. टीएमसी सांसद (Member of parliament) ने कहा, ‘वहां एक भी आदमी हमें रिसीव करने के लिए नहीं था. हम शुरुआत से ही एक आम आदमी की तरह घूम रहे थे. जब हम लखीमपुर जा रहे थे तब पुलिस (Police) ने हमारी कार को रोका था. मैं स्वीका करता हूं कि हमने उनसे झूठ बोला कि हम दुधवा नेशनल पार्क जा रहे हैं.

Check Also

सोने , चांदी की कीमतों में गिरावट

नई दिल्ली (New Delhi) . घरेलू बाजार में बुधवार (Wednesday) को सोने, चांदी (Silver) की …