यह गुजरात नहीं, बिरसा की भूमि है – खदेड़ दिए जाओगे; जेएएम महासचिव की भाजपा को ललकार

Photo of author

रांची, 11 मई . लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में झारखंड की खूंटी, लोहरदगा, पलामू और सिंहभूम सीटों पर 13 मई को मतदान होगा. इस बीच झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को ललकारते हुए कहा है कि यह “गुजरात नहीं, बिरसा की भूमि है – खदेड़ दिए जाओगे”.

वरिष्ठ भाजपा नेता की शुक्रवार को खूंटी में हुई सभा को लेकर उन्होंने कहा कि उस सभा में मुश्किल से पांच हजार लोग थे. सभा में बिरसा के वंशज भी शामिल नहीं थे. शाह पर हमला तेज करते हुए उन्होंने कहा कि अगर वह पूरे चुनाव भी झारखंड में रहते तो भी सभी 14 सीटें ‘इंडिया’ गठबंधन के खाते में तय हो जातीं.

संदेशखाली मामले में गृह मंत्री अमित शाह के बयान कि “संदेशखाली के गुनहगारों को उल्टा लटकाकर सीधा करेगी भाजपा” पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि वे कहते हैं कि उल्टा लटकाकर… इसका 13 तारीख को जवाब मिलेगा. यह गुजरात नहीं, बिरसा की भूमि है खदेड़ दिए जाओगे. उन्होंने कहा कि अगर हिम्मत है तो कश्मीर में विधानसभा चुनाव कराकर देखें.

उन्होंने अमित शाह पर हमला करते हुए कहा कि लड़ना है तो ‘इंडिया’ अलायंस से लड़ो, मुद्दों पर लड़े. उन्होंने दावा किया कि खूंटी में एक लाख 40 हजार 450 वोटों से अर्जुन मुंडा चुनाव हारेंगे.

पीएसके/एकेजे