छात्र के हत्यारे टीचर ने खुद ही फर्श से साफ किए थे खून के धब्बे; पुलिस केस के डर से घायल गणेश को निजी अस्पताल भी ले गया था


चूरू (churu) . कोलासर गांव के निजी स्कूल में होमवर्क नहीं करने पर सातवीं के छात्र (student) को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार देने वाले शिक्षक मनोज ने घटनास्थल से सबूत मिटाने के भी प्रयास किये थे. शिक्षक ने जिस निर्दयता से 13 वर्षीय बालक गणेश को पीटा था उससे वह लहूलुहान होकर बेहोश हो गया था. बाद में आरोपी शिक्षक मनोज ने खुद ही फर्श से खून के निशान साफ किए थे. पुलिस (Police) केस के डर से वह घायल गणेश को निजी अस्पताल ले गया.

वहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया. मृतक छात्र (student) गणेश के पिता ने बताया कि स्कूली बच्चों ने उसको बताया कि मारपीट में गणेश को बहुत ज्यादा खून आया था. बाद में आरोपी शिक्षक लहूलुहान गणेश जबरदस्ती करके सालासर के निजी अस्पताल लेकर गया. उस वक्त वह भी कार में मौजूद था. आरोपी टीचर ने कहा था सालासर के बालाजी हॉस्पिटल में ही चलना है. हॉस्पिटल में डॉक्टर (doctor) ने गणेश को मृत करार दिया.

उल्लेखनीय है कि बालक गणेश कोलासर के एक निजी स्कूल में सातवीं में पढ़ता था. होमवर्क नहीं करके नहीं ले जाने पर बुधवार (Wednesday) को स्कूल में शिक्षक मनोज ने उसे कदर पीटा की उसकी मौत हो गई. इस संबंध में गणेश के पिता ने शिक्षक ओमप्रकाश के खिलाफ पुलिस (Police) थाने में रिपोर्ट दी है. गणेश बीते 15 दिनों में तीन-चार बार शिक्षक मनोज के दुर्व्यवहार की शिकायत अपने पिता से कर चुका था. उसने अपने पिता को बताया था कि शिक्षक मनोज उसके साथ लगातार मारपीट करता है.

Check Also

उत्तराखंड-कश्मीर में बर्फबारी से मैदानी इलाकों में सर्दी बढ़ी

नई दिल्ली (New Delhi) . उत्तराखंड और कश्मीर के पहाड़ों में बर्फबारी होने से मैदानी …