टी20 में पाक टीम की जीत के बाद थम नहीं रही पाक नेताओं की ओछी बयानबाजी

इस्लामाबाद . भारत और पाकिस्तान के बीच रविवार (Sunday) को टी-20 वर्ल्ड कप मैच खेला गया. कयास लगाए जा रहे थे कि हर बार की तरह इस बार भी भारत ही जीतेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और इस बहुप्रतीक्षित मुकाबले में पाक टीम ने भारत को 10 विकेट से हरा दिया. इस मैच के बाद भारत ने खेल भावना का प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान को जीत की बधाई दी, जबकि पड़ोसी देश के नेता और मंत्री इस पर ओछी बयानबाजी पर उतर आए.

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच होने वाले मैच के संबंध में जब पाकिस्तान के सूचना एवं प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी से सवाल पूछा गया तो उन्होंने रविवार (Sunday) के मैच का जिक्र किया. एक वीडियो में फवाद चौधरी कहते दिख रहे हैं, असल गुस्सा तो हमें न्यूजीलैंड पर ही था, यह इंडिया तो रास्ते में आ गया. जब उनसे दुबई में मैच देखने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, बस इंडिया वाला हो गया, अब रोज-रोज क्या.

दरअसल विश्वकप से पहले न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान का अपना दौरा रद्द कर दिया था. टीम ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए मैदान पर आने से इनकार कर दिया था और होटल (Hotel) के कमरों से ही खिलाड़ी अपने देश लौट गए थे. इससे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को न सिर्फ घाटा हुआ था बल्कि दुनियाभर में पाकिस्तान की किरकिरी भी हुई. इसके बाद से ही पाकिस्तान टी20 विश्वकप में न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले मैच को अहम बता रहा था.

भारत पाकिस्तान मैच पर निचले स्तर की बयानबाजी करने वालों में फवाद चौधरी पहला नाम नहीं हैं. इससे पहले पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम की जीत को ‘इस्लाम’ की जीत बताया था. इसमें सबसे बड़ा नाम खुद पाक पीएम इमरान खान का भी है, जिन्होंने मैच के बाद सऊदी अरब में कहा था कि भारत अभी-अभी पाकिस्तान से हारा है. यह संबंध सुधारने के लिए बात करने का सही समय नहीं है. उन्होंने कहा था कि अगर मैं किसी मुद्दे को सुलझाने पर बात करता तो वह कश्मीर होता.

Check Also

कपर ने विश्वकप मेजबानी के लिए करायी थी जासूसी

वाशिंगटन . साल 2022 में होने वाले विश्व कप फुटबॉल की मेजबानी करने वाले कतर …