जो डर गया, वो बच गयाः कोविड मरीजों से मिलकर मनोबल बढ़ाया, ऑक्सीजन प्रबंधन के लिए जिला प्रषासन की सराहना

उदयपुर (Udaipur). प्रभारी मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास शुक्रवार (Friday) को उदयपुर (Udaipur) पहुंचे. यहां मंत्री खाचरियावास ने जिला परिषद सभागार में कोविड समीक्षा बैठक ली. बैठक के दौरान खाचरियावास ने जिला कलक्टर (District Collector) चेतन देवड़ा और एसपी डॉ. राजीव पचार के नेतृत्व में जिले में कोविड प्रबंधन और लॉकडाउन (Lockdown) की पालना को लेकर किए जा रहे प्रयासों की सराहना की. इस अवसर पर जिला कलक्टर (District Collector) चेतन देवड़ा, एसपी डॉ. राजीव पचार, जिला परिषद सीईओ डॉ. मंजू, एडीएम प्रशासन ओ.पी. बुनकर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

उदयपुर (Udaipur) मॉडल की सराहना

मंत्री खाचरियावास ने कहा कि उदयपुर (Udaipur) में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए बेहद सुनियोजित और संगठित रूप से प्रयास किए जा रहे हैं. यहां की जनता जागरूक है और प्रशासन मुस्तैद. कलक्टर चेतन देवड़ा ने कोविड मरीजों के उपचार के संबंध में जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी. सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने पीपीटी के माध्यम से मंत्री को जिले में ब्लॉक वाइज कोरोना मरीजों, क्लॉक कॉन्टेक्ट, पॉजिटिविटी रेट, सैम्पलिंग, ऑक्सीजन डिमांड, आदि की से जानकारी दी.

ब्लैक फंगस की जानकारी ली

खाचरियावास ने कहा कि उदयपुर (Udaipur) के अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड की उपलब्धता है यह अच्छी बात है. एक भी मरीज इलाज से वंचित नहीं रहना चाहिए. आरएनटी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. लाखन पोसवाल और एमबी अस्पताल अधीक्षक डॉ. आर. एल. सुमन ने बताया कि इस बार मरीजों को ऑक्सीजन की ज्यादा जरूरत पड़ रही है. ज्यादातर मरीज घर से ही गंभीर स्थिति में अस्पताल लाए जा रहे हैं. खाचरियावास ने कोविड मरीजों में ब्लैक फंगस के मामलों को लेकर भी जानकारी ली.

ऑक्सीजन खपत कम करने पर तारीफ

जिला परिषद सीईओ डॉ. मंजू ने बताया कि ऑक्सीजन लीकेज कम करने के लिए ऑक्सीजन ऑडिट टीम दिन में दो बार अस्पताल का निरीक्षण करती है. ज्यादा खपत वाले अस्पतालों को चिह्नित कर नोडल अधिकारी मॉनीटरिंग करते हैं. इस दौरान ऑक्सीजन बचाने के लिए अस्पतालों में पोस्टर चिपकाए गए और परिजनों को भी जागरूक किया गया. इससे प्रति मरीज ऑक्सीजन खपत में कमी आई और लीकेज भी कम हुआ.

मरीजों का बढ़ाया मनोबल

इससे पहले मंत्री खाचरियावास ने ईएसआईसी और एमबी हॉस्पिटल में कोविड वार्डों में जाकर मरीजों का मनोबल बढ़ाया. अस्पताल प्रशासन के प्रयासों की सराहना करते हुए खाचरियावास ने कहा कि यहां पर मरीजों को मन से मजबूत करने की जरूरत है. अस्पतालों में बहुत अच्छी व्यवस्था है. ऑक्सीजन मैनेजमेंट के लिए मैं आपको सैल्यूट करता हूं. यह वक्त दुबारा नहीं आएगा, लेकिन हमारा काम याद रखा जाएगा.

राजस्थान (Rajasthan)एक परिवार, सीएम हमारे रोल मॉडल

जिला परिषद सभागार में अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए खाचरियावास ने कहा कि पूरा राजस्थान (Rajasthan)एक परिवार है और सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) हमारे रोल मॉडल हैं. खुद कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद सीएम 18-18 घंटे काम कर रहे हैं. कोरेाना से जंग जीतना तय है. ईद, आखातीज और परशुराम जयंती की बधाई देते हुए खाचरियावास ने कहा कि परमपिता ईश्वर से प्रार्थना करता हूं. हम सब मिलकर कोरोना को हराएंगे. जिसका मन मजबूत हो, इरादे नेक हो, उसे कोई नहीं हरा सकता.

इंदिरा रसोई पहुंचे

जिला परिषद सभागार से मंत्री खाचरियावास सज्जननगर स्थित इंदिरा रसोईघर पहुंचे. यहां उन्होंने व्यवस्थाओं का जायजा लिया. रसोईघर में साफ-सफाई और व्यवस्थाओं को देखकर मंत्री ने संतोष जाहिर किया. खाचरियावास ने कहा कि आज के दौर में जो गरीबों और वंचितों की सेवा कर रहा है, वो एक तरह से ईश्वर की सेवा कर रहा है. हर आदमी आज जरूरतमंद है.

2021-05-15
Previous नन्हे हाथों ने जारी किया विवाह योग्य युवतियों  के लिए मेहंदी का एक आकर्षक डिजाइन
Next आहार-विहार-सदाचार ही है आरोग्य की कुंजी –  प्रो. महेश दीक्षित

Check Also

फ्रेट कॉरिडोर पर यह काम कोविड से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद आगे बढ़ा

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय रेल के सार्वजनिक उपक्रम, डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ …

Exit mobile version