सेना को राष्ट्रीय संप्रभुता की दृढ़ता से हिफाजत करने के लिए तैयार रहना चाहिए: शी

बीजिंग . चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने देश की सेना से कहा है कि उसे किसी भी समय विभिन्न प्रकार की ‘‘जटिल और मुश्किल’’ परिस्थितियों का जवाब देने के लिए तथा राष्ट्रीय संप्रभुता की दृढ़ता से हिफाजत करने के लिए तैयार रहना चाहिए. चीन में सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुख एवं सेना अध्यक्ष शी ने संसद के वार्षिक सत्र के दौरान एक परिचर्चा में यह टिप्पणी की. इसमें सशस्त्र बलों के प्रतिनिधि भी शरीक हुए थे.

शी ने कहा,हमारे देश की मौजूदा सुरक्षा स्थिति बहुत ही अस्थिर और अनिश्चित है. उन्होंने कहा, पूरी सेना को अवश्य ही क्षमता निर्माण में और युद्ध तैयारियों के बीच संबंधों में समन्वय करना चाहिए, विभिन्न प्रकार की जटिल और मुश्किल पिरिस्थितियों का किसी भी वक्त जवाब देने के लिए तैयार रहना चाहिए, राष्ट्रीय संप्रभुता, सुरक्षा और विकास से जुड़े हितों की दृढ़ता से हिफाजत करनी चाहिए तथा एक आधुनिक समाजवादी राष्ट्र के व्यापक निर्माण में मजबूत सहयोग करना चाहिए. संसद का छह दिवसीय वार्षिक सत्र बृहस्पतिवार को संपन्न हो रहा है. पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील के विवादित इलाकों से अपने सैनिकों को वापस बुलाने के चीन के फैसले के बाद संसद का सत्र हो रहा है.

Check Also

कोरोना से ठीक होने के बाद भी नहीं टलता मौत का खतरा

वाशिंगटन . कोरोना से ठीक हो चुके लोगों में अगले छह महीनों तक मौत का …