भारत और डेनमार्क की न्यायपालिका किम डेवी के प्रत्यर्पण से संबंधित मुद्दे पर गौर कर रही है – स्वेन

नई दिल्ली (New Delhi) . डेनमार्क के राजदूत फ्रेडी स्वेन ने शनिवार (Saturday) को कहा कि भारत और डेनमार्क की न्यायपालिका किम डेवी के प्रत्यर्पण की मांग से संबंधित मुद्दे पर गौर कर रही है. डेवी 1995 के पुरुलिया हथियार कांड में “प्रमुख साजिशकर्ता” है. डेनमार्क के दूत की टिप्पणी यह ​​पूछे जाने पर आई कि क्या यह मुद्दा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और डेनमार्क के उनके समकक्ष मेटे फ्रेडरिकसेन के बीच बैठक के दौरान उठा था.

स्वेन ने बताया, “दोनों पक्षों की न्यायपालिका (भारत और डेनमार्क) इस पर गौर कर रही है. हम इसे उन पर छोड़ देंगे. वे बेहद सक्षम हैं और जानते हैं कि इस तरह की चीजों को कैसे संभालना है.” ज्ञात रहे कि 17 दिसंबर 1995 को, एंटोनोव एएन-26 विमान से एके-47 राइफलों और गोला-बारूद सहित अवैध हथियारों की एक बहुत बड़ी खेप को पश्चिम बंगाल (West Bengal) के पुरुलिया जिले में गिराई गयी थी. जांचकर्ताओं के मुताबिक इस मामले में किम डेवी मुख्य आरोपी है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इस सप्ताह की शुरुआत में साप्ताहिक ब्रीफिंग के दौरान कहा था कि भारत किम डेवी के प्रत्यर्पण के मुद्दे पर डेनमार्क के साथ बातचीत कर रहा है.

Check Also

सेक्स करने में दे रही थी दिक्कत, इसकारण लेस्बियन पार्टनर ने 16 माह की बच्ची को मार डाला

लंदन . ब्रिटेन की रहने वाली 20 साल की महिला ने अपने 28 साल की …