महाराष्ट्र में नवरात्र में गरबा पर रहेगा बैंन, दुर्गा जी की प्रतिमा की ऊंचाई सीमित रहेगी

मुंबई (Mumbai) . महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना माहमारी के कारण बंद पड़े सभी धार्मिक स्थलों के कपाट बुधवार (Wednesday) से खुले. मशहूर सिद्धिविनायक मंदिर में भी बुधवार (Wednesday) से श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचे. खास बात यह है कि देश में नवरात्रि का पर्व दस्तक देने वाला है.इसके बाद राज्य सरकारों ने श्रद्धा और कोविड काल में सावधानियों के मद्देनजर कुछ नियम तैयार किए हैं.हालांकि, मुंबई (Mumbai) में नवरात्रि के दौरान गरबा पर रोक रहेगी और साथ ही दुर्गा जी की प्रतिमा की ऊंचाई को भी सीमित रखने का फैसला किया गया है.मुंबई (Mumbai) के सिद्धिविनायक मंदिर में श्रद्धालुओं को पहले बुकिंग करानी होगी. मंदिर ट्रस्ट ने जानकारी दी है कि हर घंटे 250 श्रद्धालुओं को क्यूआर कोड दिए जाएंगे और यहां पहुंचने वालों को कोविड-19 (Covid-19) नियमों का पालन करना जरूरी है. धार्मिक स्थलों को खोलने का निर्णय महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे ने सितंबर में टास्क फोर्स के साथ हुई बैठक के दौरान ही ले लिया था.
गुरुवार (Thursday) से श्रद्धालु शिरडी साईं बाबा और शनि शिग्णापुर मंदिरों में जा सकते है. ऑनलाइन पास धारक कम से कम 15 हजार लोगों को हर रोज महाराष्ट्र (Maharashtra) के अहमद नगर स्थित शिरडी में जाने दिया जाएगा. इसकी जानकारी वरिष्ठ अधिकारी ने दी.मुंबई (Mumbai) का मुंबा देवी मंदिर भी 7 अक्टूबर से खुलने जा रहा है. हालांकि, मंदिर में केवल पूरी तरह टीकाकरण करा चुके श्रद्धालुओं को ही प्रवेश मिलेगा. इसके अलावा वैक्सीन नहीं लेने वालों को कोविड-19 (Covid-19) का नेगेटिव सर्टिफिकेट दिखाना होगा.फूल, माला और प्रसाद पर रोक रहेगी. मुंबई (Mumbai) में गरबा पर रोक रहेगी और साथ ही दुर्गा जी की प्रतिमा की ऊंचाई सीमित रहेगी.सामुदायिक मंडल चार फीट की मूर्ति की स्थापना कर सकते हैं, जबकि, घर में विराजने वाली प्रतिमाओं के लिए ऊंचाई दो फीट होगी.बृह्नमुंबई (Mumbai) महानगरपालिका ने नागरिकों से कोविड-19 (Covid-19) नियमों का पालन करने की अपील की है. साथ ही 7 अक्टूबर को शुरू हो रहे नवरात्रि त्यौहार के लिए एसओपी भी जारी की गई है.

वहीं कोलकाता (Kolkata) में त्यौहारों के मद्देनजर मेट्रो सेवाएं में रात 11 बजे तक का विस्तार किया गया है.भीड़ को संभालने के लिए शाम को हर 6 मिनट में एक मेट्रो चलाई जाएगी.भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कोलकाता (Kolkata) मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन आरपीएफ और स्टेशन स्टाफ को भी तैनात करेगा. हालांकि, पश्चिम बंगाल (West Bengal) सरकार ने कोरोना के चलते लगातार दूसरे साल सालाना दुर्गा पूजा को रद्द करने का फैसला किया है. पूजा समितियों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि पंडाल हर ओर से खुले रहें.
 

Check Also

ममता बनर्जी और उनकी पार्टी बीजेपी की बी टीम की तरह काम करती : अधीर रंजन चौधरी

नई दिल्‍ली . लोकसभा (Lok Sabha) में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने पश्चिम …