इकॉनमी की बेहतरी की वजह से बढ़ गई बिजली की डिमांड


नई दिल्ली (New Delhi) . भारत समेत पूरी दुनिया में बिजली की मांग तेजी से बढ़ी है. इस बीच कहा जा रहा है कि देश में बिजली संकट पैदा हो सकती है. ऊर्जा मंत्रालय की तरफ से बिजली की कमी को लेकर कुछ वजहें भी बताई गई हैं. मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि इकॉनमी में सुधार होने की वजह से अचानक बिजली की मांग बढ़ गई है. इसके अलावा मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि सितंबर के महीने में कोल माइन वाले इलाकों में काफी बारिश हुई है. जिससे कोयले के उत्पादन पर प्रभाव पड़ा है जिससे कोयले के दामों में इजाफा हो गया है. मंत्रालय के मुताबिक इसका परिणाम यह हुआ है कि घरेलू कोयले पर निर्भरता कम हो गई है. कोयला मंत्रालय और कोल इंडिया लिमिटेड ने भरोसा दिलाया है कि अगले तीनों में उनकी कोशिश है कि पावर सेक्टर को 1.6 मीट्रिक टन कोयला पहुंचाया जाए और इसे आगे बढ़ाकर 1.7 मिट्रिक टन किया जाए. मंत्रालय का कहना है कि इससे भविष्य में पावर प्लांट्स में कोल स्टॉक बढ़ेगा.

ऊर्जा मंत्रालय की कोर मैनेजटमेंट टीम फिलहाल हर रोज कोल स्टॉक पर काफी बारिकी से नजर रख रही है. इसके अलावा यह टीम कोल इंडिया लिमिटेड और रेलवे (Railway)के संपर्क में है ताकि पावर प्लांट्स को कोयले की सप्लाई की जा सके. केंद्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी ने शनिवार (Saturday) को कहा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोयले के दाम बढ़े हैं जिसकी वजह से इसकी कमी आई है और बिजली उत्पादन क्षमता भी प्रभावित हुई है. हालांकि उन्होंने भरोसा दिलाया है कि हालात पर अगले तीन, चार दिनों में काबू पा लिया जाएगा. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में हुई भारी बारिश की वजह भी इस साल कोयले की कमी की एक अहम वजह है. उन्होंने कहा कि तीन से चार दिनों में चीजें ठीक हो जाएंगी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आयातित कोयले के दाम अचानक बढ़े हैं. जो पावर प्लांट आयातित कोयले का इस्तेमाल करते थे वहां अचानक बिजली उत्पादन थम गया क्योंकि उन्होंने उत्पादन रोक दिया. जिसकी वजह से सारा भार घरेलू कोयले पर आ गया है. कितना कोयला अभी देश में है, इसको लेकर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगले एक-दो दिनों में इसकी पूरी जानकारी दी जाएगी. इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) से लिखित तौर से आग्रह किया था कि वो दिल्ली में बिजली सप्लाई में आ रही कमी को देखे और इस समस्या का हल निकालें. अरविंद केजरीवाल ने कहा था पावर प्लांट में कोयले की कमी की वजह से दिल्ली में बिजली की समस्या गहरा सकती है.

Check Also

देश को खोखला कर रही है क्रूरता और नफरत:राहुल गांधी

नई दिल्ली (New Delhi) . कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हरियाणा (Haryana) के …