मोरेटोरियम अवधि के ब्याज अनुदान का मिलेगा लाभ -राजस्थान में टेक्सटाइल कारोबारियों को बड़ी राहत


जयपुर (jaipur). राजस्थान (Rajasthan)में मोरेटोरियम की सुविधा प्राप्त करने वाली टेक्सटाइल इकाइयों को मोरेटोरियम अवधि का ब्याज अनुदान रिप्स के वर्तमान नियमों के अनुसार देय नहीं था. ऐसे में इन इकाइयों को 6 माह की मोरेटोरियम अवधि के ब्याज अनुदान से वंचित होना पड़ रहा था. इसे देखते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने निर्देश दिए कि इन टैक्सटाइल इकाइयों को वाणिज्यिक उत्पादन प्रारंभ करने की तिथि के 5 साल की अवधि के बाद भी ब्याज अनुदान देय होगा, जिससे इन इकाइयों को मोरेटोरियम अवधि के अप्राप्त अनुदान की भरपाई हो सके. सीएम गहलोत के इस निर्णय से अब इन इकाइयों को मोरेटोरियम अवधि के ब्याज अनुदान का लाभ भी मिल सकेगा. इससे भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, भिवाडी, पाली, जोधपुर (Jodhpur) सहित अन्य जिलों की लगभग 70 औद्योगिक इकाइयां लाभान्वित होंगी.

राजस्थान (Rajasthan)निवेश प्रोत्साहन योजना के तहत रिप्स 2014 एवं रिप्स 2019 के तहत प्रदेश में नई एवं विस्तार इकाई के रूप में निवेश करने पर टेक्सटाइल इकाइयों को टर्म लोन पर वाणिज्यिक उत्पादन प्रारंभ करने की तिथि से पांच साल तक की अवधि के लिए 5 से 7 प्रतिशत ब्याज अनुदान दिए जाने का प्रावधान है. कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (Bank) ने मार्च 2020 से अगस्त 2020 तक की अवधि को मोरेटोरियम अवधि घोषित किया था. सरकार के फैसले से टेक्सटाइल इकाइयों के मालिकों के चहरे पर खुशियों की लहर दौर गई है. वे सरकार के इस फैसले काफी संतुष्ट दिख रहे हैं.

2021-06-20
Previous राजस्थान कांग्रेस में कलह: अजय माकन ने सचिन पायलट को बताया पार्टी की धरोहर
Next  हैवानियत से परेशान रेप पीड़िता नाबालिग ने खाया जहर, जांच में जुटी पुलिस

Check Also

महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना संक्रमण के 6,843 नए मामले सामने आये

मुंबई (Mumbai) . महाराष्ट्र (Maharashtra) में रविवार (Sunday) को 24 घण्टों में कोरोना (Corona virus) …

Exit mobile version