नई दिल्ली, 1 अप्रैल . भारतीय टेनिस स्टार सुमित नागल ने एटीपी 250 माराकेच से पहले एटीपी रैंकिंग में दो स्थान आगे बढ़ने के साथ सोमवार को अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ 95वीं रैंकिंग हासिल की.

फरवरी में, नागल ने शीर्ष 100 में प्रवेश किया जब वह चेन्नई ओपन खिताब जीतने के बाद पुरुष एकल में वर्ल्ड नंबर-97 बने.

फिर, उन्होंने मियामी ओपन में शानदार डेब्यू किया और क्वालीफायर के दौरान गेब्रियल डायलो को सीधे सेटों में 7-6(3), 6-2 से हराकर अपनी स्थिति और मजबूत कर ली.

नागल अगले क्वालीफाइंग दौर में कोलमैन वोंग से हार गए. हालांकि, अपने प्रदर्शन के दम पर वो रैंकिंग में नंबर 92 पर पहुंच गए.

इंडियन वेल्स में राफेल नडाल के हटने के बाद नागल को मुख्य ड्रॉ में जगह मिली. हालांकि, वो इस मौके को भुनाने में सफल नहीं हुए और उन्हें मिलोस राओनिक के खिलाफ हार झेलनी पड़ी.

जब नागल जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन के दूसरे दौर में पहुंचे, तो वह एटीपी रैंकिंग में शीर्ष 100 में पहुंच गए. हालांकि, इसके बाद वह स्टेफानो नेपोलिटानो के खिलाफ बेंगलुरु ओपन हार गए.

इसके बाद वो थोड़े समय के लिए अपनी लय खो बैठे. पुणे एटीपी चैलेंजर प्री-क्वार्टर फाइनल में निकी पूनाचा के खिलाफ उन्हें हार झेलनी पड़ी, जिससे नागल शीर्ष 100 से बाहर हो गए.

इन तमाम मुश्किलों के बावजूद, नागल दो स्थान ऊपर चढ़कर दुनिया में अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ 95वीं रैंकिंग हासिल करने में सफल रहे. यह उपलब्धि एटीपी 250 माराकेच टूर्नामेंट में उनके प्रवेश से पहले आई है.

मंगलवार को टूर्नामेंट के शुरुआती दौर में सुमित नागल वर्ल्ड नंबर 99 कोरेंटिन मौटेट के खिलाफ खेलेंगे.

एएमजे/एबीएम