उधमसिंह नगर, 3 अप्रैल . उधमसिंह नगर जिले के नानकमत्ता में बीती 28 मार्च को कारसेवा डेरा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इसके बाद पुलिस हमलावरों की तलाश जुटी है.

हालांकि, अभी भी पुलिस के हाथ कामयाबी नहीं लगी है. पुलिस ने आरोपियों को ढूंढने के लिए 5 राज्यों में 12 पुलिस की टीमों को तैनात किया है. पुलिस ने आरोपियों पर इनाम भी घोषित किया है. पहले पुलिस ने 25-25 हजार का इनाम घोषित किया था. इसके बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया था.

पुलिस ने बुधवार को आरोपियों के ऊपर घोषित इनाम की राशि 25-25 हजार से बढ़ाकर 50-50 हजार रुपये कर दी. उधमसिंह नगर एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने कहा कि पुलिस जल्द ही इस हत्याकांड का खुलासा करेगी.

पुलिस की कई टीमें हत्याकांड को सुलझाने में लगी हैं. कुछ संदिग्ध लोगों से पूछताछ भी की जा रही है. पुलिस लगातार सोशल मीडिया पर भी नजर रख रही है. आरोपी सोशल मीडिया पर अपनी अलग-अलग लोकेशन पुलिस को बताकर गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं.

ज्ञात हो कि गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब के कारसेवा प्रमुख बाबा तरसेम की 28 मार्च को लंगर हॉल के परिसर में सुबह करीब 7 बजे बाइक सवार हमलावरों ने गोली मार दी थी. गंभीर रूप से घायल बाबा तरसेम की अस्पताल जाते समय रास्ते में मौत हो गई थी.

घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई वारदात के आधार पर आरोपियों की पहचान पंजाब के तरन तारन निवासी सर्वजीत सिंह पुत्र स्वरूप सिंह और उत्तर प्रदेश में रामपुर निवासी अमरजीत सिंह पुत्र सुरेंद्र सिंह के रूप में हुई है.

पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एसआईटी का गठन भी किया है, लेकिन 6 दिन के बाद भी आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं. फिलहाल, उत्तराखंड पुलिस की 12 टीम में देश के 5 राज्यों में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए डेरा डाले हुए हैं.

स्मिता/एफजेड