तमिलनाडु के राज्यपाल ने बिना पोर्टफोलियो वाले मंत्री सेंथिल बालाजी का इस्तीफा किया स्वीकार – indias.news

चेन्नई, 13 फरवरी . तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि ने मंगलवार को बिना विभाग के राज्य मंत्री वी सेंथिल बालाजी का इस्तीफा स्वीकार कर लिया.

तमिलनाडु राजभवन ने मंगलवार को एक प्रेस बयान में कहा कि मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने सोमवार को राज्यपाल को पत्र लिखकर तमिलनाडु मंत्रिपरिषद से सेंथिल बालाजी का इस्तीफा स्वीकार करने की सिफारिश की थी.

बयान में कहा गया कि राज्यपाल ने सिफारिश को मंजूरी दे दी और वी सेंथिल बालाजी का इस्तीफा स्वीकार कर लिया.

मद्रास उच्च न्यायालय ने सेंथिल बालाजी की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान मंत्री के छह महीने से अधिक समय तक बिना पोर्टफोलियो के सरकार में बने रहने के औचित्य पर सवाल उठाया था.

ईडी द्वारा कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार करने के बाद सेंथिल बालाजी को 17 जून, 2023 को पुझल सेंट्रल जेल में बंद कर दिया गया था.

बालाजी पर आरोप था कि उन्होंने तमिलनाडु की पिछली जयललिता सरकार में परिवहन मंत्री रहते हुए नौकरी में भर्ती के लिए रिश्वत ली थी.

सेंथिल बालाजी स्टालिन कैबिनेट में बिजली, उत्पाद शुल्क और निषेध विभाग संभाल रहे थे और मुख्यमंत्री ने उन्हें बिना विभाग के मंत्री के रूप में बरकरार रखा था और दो अन्य वरिष्ठ सहयोगियों को विषय आवंटित किए थे.

/