लखीमपुर खीरी की घटना पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया

नई दिल्‍ली . उत्‍तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी की घटना पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने स्वत: संज्ञान लिया. इस मामले में गुरुवार (Thursday) को प्रधान न्‍यायाधीश एन वी रमना जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की बेंच सुनवाई करेगी. केस का टाइटल ‘लखीमपुर खीरी में हिंसा के चलते जान का नुकसान’ है.मीडिया (Media) रिपोर्टस और चिट्ठी पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने यह संज्ञान लिया है.
ज्ञात रहे कि लखीमपुर खीरी में रविवार (Sunday) को हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी.हजारों की संख्या में किसान यूपी के लखीमपुर खीरी जिले में केंद्रीय मंत्रियों का विरोध करने के लिए जमा हुए थे.किसानों ने केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में रविवार (Sunday) को हुई हिंसा को लेकर केस दर्ज कराया है.

किसान नेताओं ने आरोप लगाया था कि मंत्री के बेटे के काफिले में शामिल वाहनों ने प्रदर्शन कर रहे किसानों को कुचला. इसके बाद हिंसा भड़क उठी और 4 किसानों के अलावा काफिले में शामिल चार अन्य लोग भी मारे गए थे. यूपी पुलिस (Police) ने लखीमपुर हिंसा मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा समेत 14 के खिलाफ एफआईआर (First Information Report) दर्ज की है. धारा 302, 120बी और अन्य धाराओं में यह केस दर्ज किया गया है.केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा ने मंगलवार (Tuesday) को स्‍वीकार किया था कि उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में जिस कार ने किसानों को कुचला था वह उनकी थी लेकिन वे या उनका बेटा (आशीष मिश्रा) घटना के समय मौजूद नहीं थे.

Check Also

ममता बनर्जी और उनकी पार्टी बीजेपी की बी टीम की तरह काम करती : अधीर रंजन चौधरी

नई दिल्‍ली . लोकसभा (Lok Sabha) में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने पश्चिम …