कन्नौज के इत्र में बदबू फैलाती थी सपा : सीएम योगी

Photo of author

कन्नौज, 11 मई . यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कन्नौज में अखिलेश यादव को खूब सुनाई. उन्होंने कहा कि वे कन्नौज से चुनाव इसलिए लड़ रहे हैं कि इंडी गठबंधन को यहां प्रत्याशी नहीं मिल रहा था. सपा अध्यक्ष कह रहे हैं कि सेवा करना चाहता हूं. जब मौका था, तब कन्नौज की इत्र में बदबू फैलाने का काम कर रहे थे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को करिया झाला के मैदान झींझक, रसूलाबाद में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने अखिलेश से कन्नौज के लड़ने का कारण बताया.

सीएम योगी ने कहा, उम्मीदवार ढूंढे नहीं मिल रहे थे, तो उन्होंने खुद दांव आजमा लिया. पहला को टिकट दिया, फिर उसका टिकट काट दिया, दूसरे को दिया तो वह मैदान छोड़कर भाग गया. तीसरे की घोषणा की तो वह मना कर दिया. जब कोई नहीं मिला तो खुद लड़ने चले आए.

योगी ने कहा, जब मौका मिला तब बदबू फैला रहे थे. हर दूसरे दिन यूपी में दंगा कराते थे. इनके शासन में बेटियों-व्यापारियों की सुरक्षा से खिलवाड़ होता था. गरीबों के हकों पर डकैती पड़ती थी. मुख्यमंत्री आवास बुलाकर दंगाइयों का महिमामंडन करते थे, लेकिन अब नए भारत का नया उप्र दंगाइयों व कर्फ्यू लगाने वालों से कैसे निपटता है, यह आप भी देख रहे होंगे.

सीएम योगी ने कहा कि नए भारत में सुरक्षा, गरीब कल्याण, विकास, विरासत और आस्था का सम्मान है. सपा रामभक्तों पर गोली चलाती थी, आतंकियों के मुकदमे वापस लेती थी और भाजपा राम मंदिर बनवाती है. आपने वोट देकर भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली व लखनऊ सरकार को चुना है, इसलिए आपके योगदान की बदौलत अयोध्या में 500 वर्ष के बाद भव्य राम मंदिर का निर्माण हुआ है.

सीएम ने कहा कि नया भारत केवल बोलता ही नहीं, करके दिखाता भी है. भाजपा ने कहा था कि रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे. सौगंध राम की खाते हैं, मंदिर वहीं बनाएंगे. तब सपा के लोग रामभक्तों पर गोलियां चलाते थे और बोलते थे कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता. इनके समय में अयोध्या में आतंकी हमला हुआ था.

सीएम ने कहा कि कांग्रेस ने देश और सपा ने यूपी की जनता की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया. दोनों एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं, फिर मिलकर जोर आजमाइश करना चाहते हैं.

विकेटी/