मेरठ, 4 अप्रैल . समाजवादी पार्टी (सपा) ने मेरठ में अब अपना लोकसभा का उम्मीदवार सुनीता वर्मा को बनाया है. उन्हें अतुल प्रधान का टिकट काटकर मैदान में उतारा गया है. टिकट मिलते ही वह अपने पति योगेश वर्मा के साथ नामांकन करने पहुंची.

टिकट कटने के बाद सरधना विधायक अतुल प्रधान ने कहा कि योगेश वर्मा की पत्नी सुनीता वर्मा को सिंबल मिला है. राजनीति और सामाजिक जीवन में अलग तरह के मोड़ आते हैं. राष्ट्रीय अध्यक्ष ने हम लोगों से बुलाकर बातचीत की है. उन्होंने जो फैसला किया, वो स्वीकार है. पूरी रात से लखनऊ में थे. दोनों लोगों की सहमति बनाई गई है.

उन्होंने कहा कि उम्मीदवार को पूरा सपोर्ट करेंगे, जो सपा ने तय किया है. जो भी निर्णय है, वो हमें स्वीकार है.

बता दें कि सपा ने पहले भानु प्रताप को टिकट दिया था और फिर उनका टिकट काटकर अतुल प्रधान को थमाया. अतुल प्रधान ने नामांकन भी दाखिल कर दिया. लेकिन, अब उनका भी टिकट कट गया है और अब मेरठ की पूर्व मेयर सुनीता वर्मा को उम्मीदवार के तौर पर उतारा गया है.

सुनीता वर्मा मेरठ-हापुड़ लोकसभा सीट से पूर्व विधायक योगेश वर्मा की पत्नी हैं. सुनीता वर्मा साल 2017 में बहुजन समाज पार्टी से मेरठ की मेयर भी रह चुकी हैं.

विकेटी/एबीएम