ई-श्रम पोर्टल पर अब तक 3 करोड़ कामगारों ने किया रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली (New Delhi) . ई-श्रम पोर्टल पर 2.5 करोड़ से अधिक असंगठित श्रमिकों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. इस पोर्टल को 26 अगस्त 2021 को लॉन्च किया गया था. यह पोर्टल प्रवासी श्रमिकों, निर्माण श्रमिकों, गिग और प्लेटफॉर्म श्रमिकों सहित असंगठित श्रमिकों का पहला नेशनल डाटाबेस है. श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने ट्विटर पर लिखा कि देश भर में तीन करोड़ से अधिक असंगठित श्रमिकों ने ई-श्रम पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया है. ई-श्रम पोर्टल देश में 38 करोड़ से अधिक असंगठित कामगारों का फ्री रजिस्ट्रेशन करेगा और उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के वितरण में मदद करेगा.
केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने असंगठित क्षेत्र श्रमिकों का डेटाबेस तैयार करने और उसका रखरखाव करने के लिए पिछले महीने के अंत में ई-श्रम पोर्टल शुरू किया था. सरकार ने पोर्टल पर पंजीकरण के इच्छुक श्रमिकों की मदद के लिए राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर- 14434 भी जारी किया है. इस समूची कवायद का मकसद सरकार की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का एकीकरण है. पोर्टल पर उपलब्ध जानकारी को राज्य सरकारों के विभागों के साथ भी साझा किया जाएगा. यह पोर्टल निर्माण श्रमिकों, प्रवासी श्रमिकों, गिग और प्लेटफॉर्म श्रमिकों, रेहड़ी-पटरी वालों, घरेलू कामगारों, कृषि श्रमिकों, दूध वालों, मछुआरों, ट्रक चालकों सहित सभी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की मदद करेगा.

Check Also

किसानों को उनके धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य के रूप में लगभग 11099.25 करोड़ रु प्राप्त हुए

नई दिल्ली (New Delhi) . खरीफ विपणन सत्र 2021-22 में 17 अक्टूबर तक 56.62 एलएमटी …