निशानेबाजों को को मिल सकती है प्रतिबंध से राहत

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) अब प्रतिबंधित निशानेबाजों को राहत दे सकती है जिससे ये एक बार फिर राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग ले सकेंगे. इससे पहले (एनआरएआई) की संचालन समिति द्वारा अनुशासनात्मक आधार पर 15 निशानेबाजों के खिलाफ अगली राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग पर प्रतिबंधित लगा दिया गया था. यह प्रतिबंध अनुमति के बिना गैर-मान्यता प्राप्त ऑनलाइन टूर्नामेंटों में भाग लेने के कारण लगाया गया था. इसके तहत ही यशस्विनी देसवाल सहित कुछ और निशानेबाजों को राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने से रोक दिया गया था.

एनआरएआई के अध्यक्ष रनिंदर सिंह ने कहा कि वह पांच मार्च को महासंघ की आम बैठक में इस फैसले पर रोक लगाने के लिए संचालन समिति को ‘मनाने’ का प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा हमेशा से यही प्रयास रहा है कि हम अपने खेल और हमारे निशानेबाजों के सर्वोत्तम हित में काम करें. निशानेबाजी बिरादरी से संबंधित किसी व्यक्ति, खासकर निशानेबाजों के खिलाफ किसी भी गंभीर कार्रवाई से हमें निराशा होमी है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे हाल ही में एनआरएआई के फैसले के खिलाफ खिलाड़ियो के माता-पिता और प्रभावित निशानेबाजों से कई अनुरोध प्राप्त हुए. मैं अगले महीने के आम बैठक में इस मुद्दे को उठाने और उक्त निर्णय को लागू नहीं करने के लिए सदस्यों को मनाने की कोशिश करूंगा.’’

Check Also

काउंटी क्रिकेट में वारविकशर की ओर से खेलेंगे हनुमा

मुम्बई (Mumbai) . टेस्ट बल्लेबाज हनुमा विहारी अब इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेलेंगे. हनुमा काउंटी …