रायपुर, 3 अप्रैल . छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. यहां की महिला इकाई की प्रदेश महासचिव उषा पटेल पिथौरा ने सभी पदों के साथ पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने पार्टी में महिलाओं को अपमानित किए जाने का आरोप लगाया है.

उषा पटेल महिला कांग्रेस की प्रदेश महासचिव के साथ महासमुंद की जिला पंचायत अध्यक्ष भी हैं और उनके इस्तीफे को सियासी तौर पर काफी अहम माना जा रहा है.

उषा पटेल ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज को लिखे पत्र में कहा है कि विगत 25 सालों से वे कांग्रेस की सक्रिय सदस्य के तौर पर काम कर रही हैं. इतनी लंबी सेवा के बावजूद लगातार संगठन में उनकी उपेक्षा की जाती रही. इस वजह से उनके आत्म सम्मान को ठेस पहुंची है.

उषा पटेल तीन बार जिला पंचायत सदस्य भी निर्वाचित हुईं. उन्होंने अपने त्यागपत्र में अपनी भावनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि संगठन में महिलाओं के सम्मान को हमेशा नजरअंदाज किया गया. पार्टी में सम्मान की जगह अपमान मिला है, लिहाजा वे महिलाओं के सम्मान और आत्म सम्मान के लिए कांग्रेस की सदस्यता और सभी पदों से इस्तीफा दे रही हैं.

साथ ही उन्होंने वादा किया कि वे महिलाओं के सम्मान और उनके अधिकारों के लिए हमेशा लड़ती रहेंगी.

एसएनपी/