उदयपुर में सिवरेज गैस का रिसाव : स्‍मार्ट सिटी के अधिकारियों के पास कोई ईलाज नहीं, सिवरेज का आधा ढक्कन खोल निकाली गैस · Indias News

उदयपुर में सिवरेज गैस का रिसाव : स्‍मार्ट सिटी के अधिकारियों के पास कोई ईलाज नहीं, सिवरेज का आधा ढक्कन खोल निकाली गैस

उदयपुर. शहर के अंदरूनी क्षेत्र में शुक्रवार सुबह वर्ष 2004 में डाली सिवरेज लाईन से घातक मिथेन गैस का रिसाव होने से हड़कंप मच गया. घटना के बाद मौके पर काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए और लोगों ने इस बारे में निगम को बताया. इस पर मौके पर निगम के अधिकारी आए, लेकिन किसी के पास इसका कोई उपाय नहीं था. बाद में अधिकारियों ने इस सिवरेज का ढक्कन आधा खोल दिया, ताकि धीरे-धीरे यह गैस हवा में उड़ जाए.शाम को मौके पर नगर निगम की फायर बिग्रेड पहुंची और सिवरेज में फॉम डाल स्थिति को नियंत्रण में करने का प्रयास किया.

जानकारी के अनुसार पिछोला झील के किनारे गड़िया देवरा में एक मंदिर के पास ही वर्ष 2004 में सिवरेज लाईन डाली गई है. इधर वर्तमान में भी सिवरेज लाईन डालने का काम चल रहा है. जिससे कई लाईनों को बंद कर रखा है. ऐसे में सिवरेज चैम्बर में घातकमिथेन गैस बन रही है. शक्रवार को गडिया देवरा मंदिर के बाहर स्थित सिवरेज चैम्बर 535 में सफेद गैस निकलते हुए देखकर मौके पर काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए. मौके पर आए झील विकास प्राधिकरण के सदस्य तेजशंकर पालीवाल ने चैम्बर का ढक्कन हटाकर देखा तो एकदम से सफेद बदबूदार धुआं निकला. पहले तो यह माना गया कि किसी ने सिवरेज लिफ्ट करने का पंप चला दिया है, जिसमें में स्पार्किंग होने से आग लग गई और इसी कारण यह धुआं हो रहा है.

बाद में जब धुएं में किसी तरह पाईप या तार जलने की बदबू नहीं आने के कारण और धुआं भी सिवरेज से निकलते ही हवा में अदृश्य होने पर झील प्रेमियों को शंका हुई. इस पर तत्काल नगर निगम के अधिकारियों को बताया और झील प्रेमियों ने पता किया तो पता चला कि यह मिथेन गैस है, जो घातक है. मौके पर क्षेत्रिय पार्षद आशा सोनी को भी लोगों ने फोन कर बुलाया. मौके पर दोपहर बाद नगर नगम के अधिकारी भी पहुँचे.अधिकारियों ने स्थिति को देखा और मौके पर प्रदूषण विभाग के अधिकारियों को बुलाया गया. प्रदूषण विभाग के अधिकारियों ने मौके पर आकर सुझाव दिया कि सिवरेज का ढक्कन आधा खुला रखा जाए ताकि सारी मिथेन गैस हवा में उड़ जाए और किसी को कोई नुकसान ना हो. इसके बाद से ही दिन भर यह सिवरेज का चैम्बर खुला हुआ है और मिथेन गैस निकलती रही. शाम को नगर निगम की फायर बिग्रेड़ पहुंची. फायर अधिकारी जलज घसिया के नेतृत्व में इस चैम्बर में फोम और पानी का छिड़काव किया. इसके बाद भी गैस का रिसाव होता रहा.

Check Also

वडोदरा / पादरा के निकट भीषण सड़क दुर्घटना में 11 लोगों की मौत, कई घायल

वडोदरा . पादरा के रणुं-महुवड सर्कल के निकट आज हुई भीषण सड़क दुर्घटना में 11 …