मैनपुरी: बुखार से पीड़ित अधिवक्ता, छात्रा सहित सात मरीजों की मौत


मैनपुरी. जिले में बुखार का कहर थम नहीं रहा है. पिछले 24 घंटे में जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में बुखार से पीड़ित अधिवक्ता, छात्रा सहित आठ मरीजों की मौत हो गई. जिले में बुखार से पीड़ित बड़ी संख्या में लोग अलग-अलग स्थानों पर उपचार ले रहे हैं. शनिवार (Saturday) को जिला अस्पताल में 1022 मरीजों को प्राथमिक उपचार दिया गया. जिला अस्पताल की जांच में 25 मरीज डेंगू पॉजिटिव पाए गए.

औंछा थाना क्षेत्र के गांव रंपुरा निवासी दिवारीलाल की 85 वर्षीय पत्नी शांती देवी को पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था. परिजन उनका एक निजी डॉक्टर (doctor) के यहां उपचार करा रहे थे. शनिवार (Saturday) को हालत बिगडने पर परिजन उन्हें लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, यहां डॉक्टरों (Doctors) ने मृत घोषित कर दिया. कोतवाली थाना क्षेत्र के गांव मोहनपुर निवासी ब्रजेश कुमार की 35 वर्षीय पत्नी ममता देवी को शुक्रवार (Friday) को बुखार आया. शनिवार (Saturday) को हालत बिगडने पर परिजन उन्हें लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, यहां डॉक्टरों (Doctors) ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. बिछवां थाना क्षेत्र के गांव जरामई निवासी 58 वर्षीय अधिवक्ता नियाम सिंह को पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था. परिजन उनका आगरा (Agra) के एक निजी अस्पताल में उपचार करा रहे थे. यहां शुक्रवार (Friday) की रात उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई.

आलीपुर खेड़ा में महिला और युवक की मौत

आलीपुर खेड़ा. कस्बा निवासी राधाकृष्ण कठेरिया के 17 वर्षीय पुत्र बलराम उर्फ विकास को पिछले एक सप्ताह से बुखार आ रहा था. परिजन उसका कस्बा के ही एक निजी डॉक्टर (doctor) से उपचार करा रहे थे. यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. अलीपुर पट्टी के नगला खंदारी निवासी रनवीर सिंह शाक्य की 45 वर्षीय पत्नी ललिता को पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था. परिजन उनका आगरा (Agra) के एक निजी अस्पताल में उपचार करा रहे थे. उपचार के दौरान शनिवार (Saturday) को उसकी मौत हो गई.

Check Also

जालसाजी व रंगदारी के आरोप में राहुल व प्रियंका गांधी के करीबी अल्लू मियां लखनऊ में गिरफ्तार

लखनऊ (Lucknow) . कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका …