बोन कैंसर से पीड़ित बच्चे को रोजाना दर्द में तड़पता देख पिता ने दिया इंजेक्शन, हुई मौत

चेन्‍नई . तमिलनाडु (Tamil Nadu) के सलेम में बोन कैंसर से पीड़ित 14 साल के लड़के की तकलीफ न देख पाने से परेशान पिता ने पुत्र को जहर देकर मार डाला. लड़के के पिता ने अपने लड़के ने तीन दवाओं के मिश्रण वाला इंजेक्‍शन लगाया था, जिसके बाद उसकी मौत हो गई.घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस (Police) ने पिता सहित 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. जानकारी के मुताबिक पेरियासामी का 14 साल का बेटा वन्‍नाथमिजन पिछले एक साल से बोन कैंसर से पीड़ित था.बेटा दिन-रात दर्द में तड़पता रहता था.पेरियासामी ने अपने बेटे का दर्द दूर करने के लिए वेंकटेशन से संपर्क किया, जो एक प्रयोगशाला चलाता है.इसके बाद पेरियासामी और वेंकटेशन ने एक चिकित्सा पेशेवर प्रभु से संपर्क किया. पुलिस (Police) जांच में पता चला है कि प्रभु तुरंत पेरियासामी के घर गए और उन्होंने 14 साल के वन्नाथमिजन को एक इंजेक्शन दे दिया जिसके बाद उसकी मौत हो गई.
जानकारी के मुताबिक प्रभु ने तीन दवाओं के एक मिश्रण का इंजेक्‍शन वन्नाथमिजन को लगाया था, जिसके ओवर डोज से उसकी मौत हो गई.घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस (Police) ने पेरियासामी से पूछताछ की,तब उसने पुलिस (Police) को सब सच-सच बता दिया. कोंगुनाप्रम पुलिस (Police) ने 14 साल के वन्‍नाथमिजन को इंजेक्‍शन लगाकर मारने के मामले में पेरियासामी, वेंकटेशन और प्रभु को गिरफ्तार कर लिया है. जिन्होंने धारा 109 (अपराध के लिए उकसाना) के तहत मामला दर्ज किया है.

Check Also

70 हजार मस्जिदों ने घटाई अजान के लाउडस्पीकरों की आवाज

जकार्ता . इंडोनेशिया में 21 करोड़ मुस्लिम आबादी रहती है. इस देश ने लोगों की …