नई दिल्ली, 4 अप्रैल . तिहाड़ जेल से बाहर निकलने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के परिवार से मुलाकात की. आप सांसद पार्टी के दफ्तर भी पहुंचे. गुरुवार को संजय सिंह ने राजघाट पहुंचकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का आशीर्वाद लिया.

संजय सिंह ने राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की. इस दौरान उनके साथ पार्टी के कई नेता भी मौजूद रहे.

राजघाट से बाहर निकलकर संजय सिंह ने कहा कि जिस तरह से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जेल में डाला गया है, दूसरे विपक्षी नेताओं को भी जेल में डालने की तैयारी है. यह तानाशाही की शुरुआत है, यह लोकतंत्र और देश के लिए सबसे बड़ा ख़तरा है. इसके खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए हम बापू से आशीर्वाद मांगने राजघाट आए हैं.

संजय सिंह ने कहा कि बापू ने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी. उस वक्त बोलने की आजादी नहीं थी. आज आजादी के 77 साल बाद वैसी ही स्थिति है. मैंने बापू की समाधि के पास यह प्रार्थना की है कि हे राष्ट्रपिता, आप जहां कहीं भी हैं, इस सरकार को समझ देने का काम करें.

पीकेटी/एबीएम