रिलांयस ने जर्मन कंपनी में किया 218 करोड़ का ‎निवेश

नई दिल्ली (New Delhi) . रिलायंस ने जर्मनी की सेमीकंडक्टर्स चिप बनाने वाली कंपनी नेक्सवाफे में 218 करोड़ रुपए का ‎निवेश ‎किया है. यह भारतीय बाजार के लिए एक रणनीतिक डील है. नेक्सवाफे हाई इफीसिएंसी मोनोक्रिस्टलाइन सिलिकॉन वेफर्स बनाती है. ये सिलिकॉन वेफर्स सेमीकंडक्टर्स के उत्पादन के लिए अहम होते हैं. रिलायंस द्वारा नेक्सवेफ में निवेश उत्पाद और प्रौद्योगिकी विकास में तेजी लाएगा. आजकल हर तरह के इलेक्टॉनिक डिवाइसेज में सेमीकंडक्टर का उपयोग होता है. रिलायंस इस साझेदारी के माध्यम से प्रौद्योगिकी का उपयोग करके भारत में बड़े पैमाने पर वेफर निर्माण की योजना बना रही है. इस बारे में की गई एक एक्सचेंज फाइलिंग में कंपनी ने कहा है कि ‎रिलायंस ने नेक्सावाफे के साथ एक करार किया है. इस करार के तहत रिलायंस न्यू एनर्जी सोलर लिमिटेड 218 करोड़ करोड़ रुपए प्रति शेयर के भाव पर नेक्सावाफे के 86,887 सीरीज सी प्रिफर्ड शेयरों का अधिग्रहण करेगी. इसके अलावा36,201 वारंट भी इश्यू किए जाएंगे. हाल ही में आरआईएल ने एक और एक्सचेंज फाइलिंग में बताया है कि उसकी सोलर यूनिट रिलायंस न्यू एनर्जी सोलर लिमिटेड ने डेनमार्क की कंपनी स्टीस्डाल के साथ पार्टनरशिप की है. दोनों कंपनियां मिलकर हाइड्रोजन इलेक्ट्रोलाइजर्स बनाएंगी. रिलायंस के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा ‎कि नेक्सावाफे के साथ हमारी साझेदारी एक महत्वाकांक्षी योजना की शुरुआत है. भारत की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था के लिए ग्रीन एनर्जी जरूरतों को पूरा करने के लिए मिशन है.

Check Also

ल्यूपिन को दूसरी तिमाही में 2,098 करोड़ का घाटा

नई दिल्ली (New Delhi) . दवा निर्माता ल्यूपिन ने कहा कि 30 सितंबर को समाप्त …