3 हफ्ते से नदारद है रवीश कुमार का प्राइम टाइम, दर्शकों में बेचैनी?


नई दिल्ली (New Delhi) . खबरों की दुनिया के गलियारे में चर्चा है कि रवीश कुमार ने एनडीटीवी छोड़ दिया है. इस चर्चा के पीछे कैफियत यह दी जा रही है कि रवीश कुमार का प्राइम टाइम बीते 3 सप्ताह से एयर नहीं हो रहा है. प्राइमटाइम के दर्शकों में बेचैनी है. वे जानना चाहते हैं कि आखिर क्यों प्राइम टाइम नदारद हो गया है.

3 हफ्ते पहले भी रवीश कुमार के इस्तीफे की अफवाह उड़ी थी, उस समय उन्होंने इसका खंडन किया था. लेकिन लोगों का कहना है कि बिना आग के धुआं नहीं उठता. एनडीटीवी के अडानी द्वारा खरीदे जाने की खबर भी बड़ी प्रमुखता से समाचार की दुनिया में गूंजती रही. उसका असर यह हुआ कि एनडीटीवी के शेयरों में उछाल देखा गया. जानकारों का कहना है कि इस तरह की डील पर्दे के पीछे की जाती है जिसका पता आमतौर पर तुरंत नहीं लग पाता. जिस तरह एनडीटीवी के कार्यक्रमों की तासीर बदली है और उसके कंटेंट में सरकार विरोधी रुझान में कमी आई है, उसे देखते हुए ऐसी किसी भी आशंका को दरकिनार नहीं किया जा सकता.

एनडीटीवी अपने सरकार विरोधी तेवरों के लिए विख्यात हैं. खासकर मैग्सेसे अवार्ड से सम्मानित पत्रकार रवीश कुमार सत्ता के खिलाफ अपनी बेबाक आवाज़ के लिए मशहूर हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के समर्थकों की नजरों में रवीश कुमार सबसे बड़े विलेन भी हैं जो आमतौर पर मोदी की सत्ता की खुलकर आलोचना करते नजर आते हैं. ऐसे हालात में रवीश कुमार का लंबे समय तक खबरों की दुनिया से नदारद रहना कई सवाल खड़े कर रहा है. शायद आने वाले दिनों में हालात और स्पष्ट हो सकेंगे.

Check Also

इस हफ्ते 10 करोड़ हो जाएगी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण की संख्या

नई दिल्ली (New Delhi) . सरकार के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत असंगठित श्रमिकों का आंकड़ा …