राकेश अस्थाना को हाईकोर्ट से राहत

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली हाईकोर्ट ने गुजरात (Gujarat) कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना की दिल्ली पुलिस (Police) कमिश्नर के रूप में नियुक्ति और उनकी सेवा में एक साल के विस्तार को चुनौती देने वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया. हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस (Police) कमिश्नर पद पर गुजरात (Gujarat) कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना की नियुक्ति के खिलाफ जनहित याचिका पर चीफ जस्टिस डीएन पटेल और जस्टिस ज्योति सिंह की बेंच ने संबंधित पक्षों की दलीलें सुनने तथा सुनवाई पूरी होने के बाद 27 सितंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. याचिका पर सुनवाई के दौरान गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने हलफनामे के जरिए दाखिल अपने जवाब में कहा था कि राकेश अस्थाना की नियुक्ति कानून और परंपराओं के दायरे में की गई है तथा इस मामले में किसी भी तरह से कानून का उल्लंघन नहीं किया गया है. हलफनामे में कहा गया कि अस्थाना की नियुक्ति का फैसला उनके लंबे अनुभवों को देखते हुए दिल्ली में कानून व्यवस्था की वर्तमान चुनौतियों के कारण किया गया है. वकील सदरे आलम ने अस्थाना के सेवा विस्तार एवं पुलिस (Police) आयुक्त के पद पर उनकी नियुक्ति को नियमों के कानून के विरुद्ध बताते हुए उसे हाईकोर्ट में चुनौती दी थी. इसी मामले में सेंटर फॉर पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन (सीपीआईएल) की ओर से वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने हस्तक्षेप याचिका दाखिल की थी, जिन्होंने इससे पहले अस्थाना की नियुक्ति को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में चुनौती दी थी.

Check Also

ममता बनर्जी और उनकी पार्टी बीजेपी की बी टीम की तरह काम करती : अधीर रंजन चौधरी

नई दिल्‍ली . लोकसभा (Lok Sabha) में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने पश्चिम …