पुजारा ने दिखाया, टेस्ट में स्ट्राइक रेट नहीं क्रीज पर टिकना अहम : कार्तिक

भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज रहे दिनेश कार्तिक ने कहा है कि बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने दिखाया है कि टेस्ट क्रिकेट में स्ट्राइक रेट की भूमिका नहीं है. पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया में ज्यादा रन नहीं बनाए पर मैदान में डटे रहकर टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई.

कार्तिक ने कहा, ‘मुझे लगता है कि स्ट्राइक रेट की बात करना बेमानी है. आजकल चार दिन के अंदर खत्म होने वाले टेस्ट मैचों की संख्या 80 से बढ़कर 82 फीसदी हो गयी है, ऐसे में स्ट्राइक रेट का कोई प्रभाव नहीं दिख रहा. ऐसे में सभी को अपने तरीके से खेलने दें. अगर किसी खिलाड़ी के स्ट्राइक रेट से जीत की संभावनाओं पर प्रभाव नहीं पड़ रहा है तो उसपर बात करने की जरुरत नहीं है. सबसे अहम है टीम की जीत. कार्तिकभारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए कमेंट्री पैनल में शामिल हैं. कार्तिक ने कहा, ‘हमने पिछली घरेलू सीरीज में कुछ कठिन हालात में खेला. ऐसे में किसी के खेल का आंकलन हमेशा आंकड़ों के आधार पर नहीं किया जा सकता. सिडनी टेस्ट को ही देख लीजिए, पुजारा ने शरीर पर कितने प्रहार झेले.’ उन्होंने कहा, ‘आईपीएल (Indian Premier League) टीम केकेआर टीम के साथी खिलाड़ी और ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने आईपीएल (Indian Premier League) के दौरान मुझसे कहा कि भारत की हार और ड्रॉ के बीच एक ही खिलाड़ी था पुजारा जितनी देर भी वह क्रीज पर रहे, अपने शरीर पर गेंदबाजों के प्रहार झेलते रहे.

कार्तिक ने विराट कोहली और न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन की दोस्ती तो आग और पानी का नाम दिया. साथ ही कहा कि अगर विराट आग है तो विलियमसन पानी की तरह कूल. ऐसे में जब दोनो साथ खेल रहे हैं तो मैच का आनंद ही कुछ और होगा.

Check Also

राहुल द्रविड़ की दरियादिली, श्रीलंकाई कप्तान को मैदान पर ही दिए अहम सुझाव

नई दिल्ली (New Delhi) . राहुल द्रविड़ महान खिलाड़ी और शानदार कोच तो हैं ही, …