8 फरवरी के चुनाव में ‘धांधली’ के खिलाफ अदालत जाएगी पीटीआई : इमरान खान – indias.news

रावलपिंडी, 13 फरवरी . पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) 8 फरवरी के आम चुनाव के नतीजों को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगी. पार्टी के संस्थापक इमरान खान ने अदियाला जेल में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत के दौरान ये बात कही.

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, सोमवार को, पार्टी ने पाकिस्तान के मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सिकंदर सुल्तान राजा के तत्काल इस्तीफे की मांग की थी. उन पर संवैधानिक और कानूनी कर्तव्यों की उपेक्षा करने और ‘चुनावी धोखाधड़ी’ में एक सूत्रधार की भूमिका निभाने का आरोप लगाया था.

रिपोर्ट में कहा गया है कि पीटीआई ने आगे जोर देकर कहा कि न केवल सीईसी राजा को पद छोड़ना चाहिए, बल्कि पाकिस्तान चुनाव आयोग (ईसीपी) के सदस्यों को भी अपना इस्तीफा देना चाहिए.

इसमें आरोप लगाया गया कि उन्होंने 8 फरवरी के आम चुनावों में पीटीआई समर्थित उम्मीदवारों को जनता द्वारा दिए गए जनादेश को छीनने के लिए मिलीभगत की.

पीटीआई प्रमुख ने पीएमएल-एन, पीपीपी या एमक्यूएम-पी के साथ गठबंधन की किसी भी संभावना को खारिज कर दिया. उन्होंने कथित धांधली के खिलाफ पीटीआई के सूचना सचिव रऊफ हसन को इन तीनों को छोड़कर दूसरे राजनीतिक दलों को इकट्ठा करने का निर्देश दिया.

पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री पर खान ने कहा कि अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है. उन्होंने कहा कि पार्टी “इस पर विचार करेगी”.

हालांकि, द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, पीटीआई संस्थापक ने खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री पद के लिए अली अमीन गंडापुर को नामित किया.

/