पुलिस ने 60 दिन बाद 23 आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट की दाखिल

अलवर. अलवर के बहरोड़ पुलिस थाने पर एके- 47 और अन्य अत्याधुनिक हथियारों से ताबड़तोड़ फायरिंग कर कुख्यात बदमाश विक्रम उर्फ पपला को उसके साथियों द्वारा लॉकअप से फरार कराने के मामले में पुलिस ने 60 दिन बाद कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है. हालां‎कि इस मामले में पुलिस ने अभी 23 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है.

पुलिस ने पपला सहित 9 आरोपियों के खिलाफ जांच लंबित रखते हुए उनके खिलाफ अभी चालान पेश नहीं किया है. ले‎किन उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं. इस दौरान बहरोड़ थानाप्रभारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि गत 6 सितंबर बहरोड़ थाने पर फायरिंग कर उसके विक्रम उर्फ पपला को उसके साथी लॉकअप तोड़कर फरार करा ले गए थे. इस मामले में बहरोड़ एसीजेएम कोर्ट में न्यायाधीश आशुतोष कुमावत के समक्ष चार्जशीट पेश कर दी गई है.

इसमें जखराना सरपंच एवं हिस्ट्रीशीटर विनोद स्वामी, कैलाशचंद गुर्जर, जगन खटाना, महिपाल गुर्जर, सुभाष गुर्जर, जितेंद्र उर्फ जीतू गुर्जर, विक्रम गुर्जर, नरेंद्र गुर्जर, दिनेश गुर्जर, महेंद्र सिंह उर्फ पप्पू गुर्जर, दीक्षांत गुर्जर, अशोक गुर्जर उर्फ मेजर, बलवान उर्फ बबलू गुर्जर, सोमदत्त गुर्जर, श्याम सुंदर और अशोक गुर्जर के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया गया है. इनके साथ ही इनके साथी चंद्रपाल उर्फ चंदू यादव, प्रशांत यादव, ओमप्रकाश यादव, राहुल गुर्जर उर्फ चुहिवाला, भूप सिंह उर्फ भूपी गुर्जर अशोक गुर्जर, सुनील कुमार गुर्जर और अजय कुमार के खिलाफ भी चालान पेश किया गया है.

इसके संबंध में एडवोकेट हुकम चंद ने बताया कि बहरोड़ एसएचओ की ओर से 23 आरोपियों को दोषी मानते हुए उनके खिलाफ चालान पेश किया गया है. दरअसल, विक्रम उर्फ पपला की फरारी कांड में राजस्थान पुलिस की काफी किरकिरी हुई थी. हालां‎कि पपला की फरारी में बहरोड़ थाने के पुलिसकर्मियों की मिलीभगत सामने आई थी. इस दौरान ‎फिर बाद में पुलिस मुख्यालय ने इस मामले में सख्ती बरतते हुए कई अधिकारियों को निलंबित कर दिया था. वहीं पूरे थाने के पुलिसकर्मियों को वहां से हटा दिया गया था.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today