देशभर के सभी जिलों को कवर करते हुए पीएमबीजेपी के स्टोर बढ़कर 8308 हुए


नई दिल्ली (New Delhi) . प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना (पीएमबीजेपी) की कार्यान्वयन एजेंसी फार्मास्युटिकल्स एंड मेडिकल डिवाइसेस ब्यूरो ऑफ इंडिया (पीएमबीआई) ने सितंबर 2021 के अंत से पहले ही वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 8,300 पीएम भारतीय जन औषधि केंद्र (पीएमबीजेके) खोलने का लक्ष्य पूरा कर लिया है. देश के सभी जिलों को प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना के तहत कवर किया है. सभी आउटलेट्स पर दवाओं का रियल टाइम वितरण सुनिश्चित करने के लिए प्रभावी आईटी तकनीक से लैस लॉजिस्टिक्स और सप्लाई चेन शुरू की गई है. पीएमबीजेपी के उत्पाद समूह में वर्तमान में 1,451 दवाएं और 240 सर्जिकल उपकरण शामिल हैं. इसके अलावा, ग्लूकोमीटर, प्रोटीन पाउडर, माल्ट आधारित खाद्य पूरक, प्रोटीन बार, इम्युनिटी बार और न्यूट्रास्युटिकल उत्पाद लॉन्च किए गए हैं. आम आदमी विशेषकर गरीबों को सस्ती दर पर गुणवत्तापूर्ण दवाएं उपलब्ध कराने की दृष्टि से, सरकार ने मार्च 2024 तक प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केंद्रों की संख्या को 10,000 तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा है. 5 अक्टूबर 2021 तक दुकानों की संख्या बढ़कर 8355 हो गई है. ये केंद्र देश के कोने-कोने में लोगों को सस्ती दवा की आसान पहुंच सुनिश्चित करेंगे. वर्तमान में पीएमबीजेपी के तीन गोदाम गुरुग्राम, चेन्नई (Chennai) और गुवाहाटी (Guwahati) में काम कर रहे हैं और चौथा सूरत (Surat) में निर्माणाधीन है. इसके अलावा, दूरदराज और ग्रामीण क्षेत्रों में दवाओं की आपूर्ति को मजबूत करने के लिए देश भर में 37 वितरकों को नियुक्त किया है.

Check Also

शरद पवार के घर होगी विपक्षी दलों की बैठक दिल्ली में प्रशांत किशोर से की मुलाकात

नई दिल्ली (New Delhi) .नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी एनसीपी के प्रमुख शरद पवार दिल्ली में हंथ …