बंगाल में रामनवमी प्रतिबंधित करने वालों की जमानत जब्त कर दें : पीएम मोदी

Photo of author

भदोही, 16 मई . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भदोही की जनसभा में तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल में रामनवमी प्रतिबंधित करने वालों की जमानत जब्त कर दीजिए. भदोही को सियासी प्रयोगशाला न बनने दें.

पीएम नरेंद्र मोदी गुरुवार को पूर्वांचल दौरे पर रहे. इस दौरान आजमगढ़, जौनपुर के बाद भदोही में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भदोही में सपा-कांग्रेस के लिए जमानत बचाना भी मुश्किल हो गया है. इसलिए, ये भदोही में सियासी प्रयोग कर रहे हैं. ये यूपी में बंगाल की टीएमसी राजनीति का ट्रायल करना चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि टीएमसी राजनीति यानी राम मंदिर को अपवित्र बताना, इनकी राजनीति यानी रामनवमी मनाने पर प्रतिबंध लगाना. ये लोग बांग्लादेशी घुसपैठियों को संरक्षण देते हैं. इनकी राजनीति वोट जिहाद के अलावा कुछ नहीं, टीएमसी की राजनीति यानी हिंदुओं की हत्या, दलितों-आदिवासियों का उत्पीड़न, टीएमसी राजनीति यानी महिलाओं पर अत्याचार. वहां टीएमसी के विधायक कहते हैं कि हिंदुओं को गंगा में डुबोकर मार देंगे. सपा यूपी को इसी दिशा में लेकर जाना चाहती है.

पीएम मोदी ने कहा कि सपा सरकार के समय यूपी में आतंकियों को स्पेशल प्रोटोकॉल मिलता था. सपा सरकार आतंकी संगठन सिमी पर मेहरबान थी. इन्होंने सिमी के सरगना को जेल से छोड़ दिया था. बाद में यूपी में कई जगह बम धमाके हुए थे. बुआ-बबुआ की राजनीति से बचकर रहने की जरूरत है. समाजवादी के शहजादे से एक सवाल करना चाहता हूं कि बंगाल की बुआ तो आपकी इतनी करीबी हैं, बंगाल से आपके पास आई हैं. कभी आपने नई बुआ को पूछा, क्यों बंगाल में यूपी-बिहार वालों को बाहरी कहती हैं. हमारा देश है, हम सभी भारतीय हैं, हम भारत माता की संतान हैं, फिर बंगाल में जाने वाले यूपी के लोगों को टीएमसी गाली क्यों देती है. गाली देने के बाद यहां यूपी में आकर वोट भी मांगती हैं. यूपी के लोगों को टीएमसी-सपा ने क्या समझ रखा है.

पीएम मोदी ने आगे कहा कि भदोही रिंग रोड का काम भी हो रहा है. मछलीशहर से बनारस तक नेशनल हाईवे का काम हो रहा है. यूपी में 17 एयरपोर्ट हैं. 3 एयरपोर्ट और बन रहे हैं. बनारस से देश-विदेश के लिए इतनी फ्लाइट उड़ने लगी है. हमारे भदोही में रेलवे लाइन अब डबल हो गई है. विकास के इन कामों का फायदा यहां के किसानों को मिलेगा.

उन्होंने कहा कि सपा की सरकार में ‘वन जिला, वन माफिया’ का दौर चलता था. इन्होंने हर जिला में अलग माफिया दिया. इनका साम्राज्य हर जिले में था. इन लोगों ने एक-एक माफिया को एक जिले को ठेके पर देकर रखा था. यहां व्यापारी सुरक्षित नहीं था. महिलाएं सुरक्षित नहीं थीं. युवाओं का कोई भविष्य नहीं होता था, लेकिन, जब से योगी जी आए हैं, जनता नहीं डरती. माफिया डरते हैं. कांग्रेस जात-पात के नाम पर गांव के गरीब मजदूर किसान का वोट लूट लेती थी. गरीब का बेटा जब प्रधान सेवक बना तो सभी के लिए योजना चलाई. मैंने अपना घर तो नहीं बनाया, लेकिन, गरीब मां का बेटा हूं, मैंने चार करोड़ गरीब परिवारों के लिए घर बनाए.

विकेटी/एबीएम/