मणिशंकर के बयान पर बरसे पीएम मोदी, कहा- मरे पड़े लोग इस देश के मन को भी मार रहे हैं

Photo of author

कंधमाल, 11 मई . ओडिशा के कंधमाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के ‘पाकिस्तान को सम्मान देना चाहिए, क्योंकि उनके पास परमाणु बम है’ वाले बयान पर पलटवार किया. पीएम मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस बार-बार अपने ही देश को डराने की कोशिश करती है. वह कहते हैं संभल कर चलो पाकिस्तान के पास एटम बम है. ये मरे पड़े लोग देश के मन को भी मार रहे हैं.

उन्होंने कहा, कांग्रेस का हमेशा ऐसा ही रवैया रहा है, ये पाकिस्तान की बम-बम करते हैं, आज पाकिस्तान की हालत यह है कि अब वह बम बेचने के लिए निकले हैं. कोई खरीदने वाला मिल जाए. लेकिन, लोगों को उनकी बम की क्वालिटी का भी पता है वो माल भी बिकता नहीं है.

पीएम मोदी ने आगे कहा कि कांग्रेस के इसी कमजोर रवैये के कारण जम्मू-कश्मीर के लोगों ने 60 साल तक आतंक भुगता है. देश ने इतने आतंकी हमले झेले हैं जो देश भूल नहीं सकता. आतंकियों को सबक सिखाने के बजाए ये लोग आतंकियों के साथ बैठक करते थे. 26/11 के मुंबई के भयंकर आतंकी हमले के बाद इनकी हिम्मत नहीं हुई कि वे आतंकवाद के सरपरस्त पर कार्रवाई करें, क्योंकि कांग्रेस-इंडी गठबंधन को लगता था अगर हम कार्रवाई करेंगे, तो हमारा वोट बैंक नाराज हो जाएगा.

उन्होंने आगे कहा, “26 साल पहले आज के दिन अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने पोखरण में परमाणु परीक्षण किया था और हमने यह दिखा दिया था कि देशभक्ति से ओतप्रोत सरकार, देश हित के लिए, देश की सुरक्षा के लिए, देश के लोगों की अपेक्षा के लिए कैसे काम करती है. मुझे याद है कि अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने जब पोखरण में परमाणु परीक्षण किया था. दुनिया भर में जितना भारतीय समुदाय रहता था, वो गर्भ अनुभूति करता था और आजादी के बाद पहली बार विदेशी धरती पर भारतीय लोगों की तरफ सम्मान की नजर से देखा जाता है. एक वह दिन था जब भारत ने दुनिया को अपने सामर्थ्य का परिचय करवाया था और दूसरी तरफ कांग्रेस की सोच, कांग्रेस बार-बार लोगों को डराने की कोशिश करती है.”

बता दें कि कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने एक इंटरव्यू में कहा था कि भारत को पाकिस्तान को सम्मान देना चाहिए, क्योंकि पाकिस्तान के पास परमाणु बम है. वहीं, कांग्रेस पार्टी ने मणिशंकर अय्यर के पाकिस्तान को लेकर दिए गए बयान से किनारा कर लिया है.

एसके/