लखनऊ, 3 अप्रैल . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चाचा-भतीजा परिवार से यूपी का मोह बहुत पहले ही भंग हो चुका है. इस चुनाव में परिवारवाद के खिलाफ हम लड़ाई लड़ रहे हैं.

प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को नमो एप के जरिए यूपी के भाजपा कार्यकर्ताओं से बातचीत कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि परिवारवादी राजनीति के खिलाफ हम लोकतंत्र को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं. जो हमारे यूपी के भाजपा कार्यकर्ता जानते हैं, उसे राजनीति के बड़े-बड़े दिग्गज भांप भी नहीं पाते हैं. लोकसभा चुनाव हो या विधानसभा चुनाव, हर चुनाव में आपकी मेहनत से नए रिकॉर्ड बन रहे हैं.

उन्होंने कहा कि आपका ये जोश देखकर मुझे तो प्रसन्नता होती है, लेकिन बाकी पार्टियों के नेता तो आपका ये जोश देखकर पहले ही ठंडे पड़ जाते हैं. चुनाव अभियान के दौरान आप सिर्फ पार्टी का प्रचार ही नहीं करते, बल्कि पार्टी की संस्कृति और संस्कारों को भी लोगों तक ले जाते हैं. मेरा आप सभी से आग्रह है कि भाजपा के विचारों के साथ-साथ अपनी विनम्रता से भी वोटरों को प्रभावित करने की कोशिश करें. आप सभी (भाजपा कार्यकर्ता) वोटरों के सीधे संपर्क में होते हैं, उनके लिए आप ही भाजपा का चेहरा होते हैं. जब आप उनसे मिलते हैं, तो वो आप में भी मोदी को ही देखते हैं.

उन्होंने कहा कि आप उन्हें जो भी बता रहे होते हैं, तो उन्हें लगता है ये मोदी बता रहा है. आप उन्हें जो भी गारंटी देते हैं, तो आप पर भरोसा करते हैं कि ये मोदी के साथी हैं, तो गांरटी में ताकत है. इसलिए आप मतदाताओं की नजरों में बहुत बड़े व्यक्ति होते हैं. यूपी के लोग किसी स्वार्थ की वजह से नहीं, बल्कि भावनात्मक रूप से जुड़ते हैं और हमेशा उस भावना से बंधे रहते हैं. एक कार्यकर्ता के रूप में आप सभी का प्रयास होना चाहिए कि आपके काम या व्यवहार से किसी को ठेस न पहुंचे.

उन्होंने कहा कि गर्मी बहुत है, मैं कार्यकर्ताओं से भी आग्रह करूंगा की अपने स्वास्थ्य की चिंता जरूर करना. जब ऐसी गर्मी में काम करते हैं, तो पानी जरूर पीना. जितना अपना स्वास्थ्य संभालेंगे, मेहनत करना उतना ही सुविधाजनक होगा. जहां भी जा रहे होंगे, जनता से विकास की बात करती होगी. लोगों में जब सरकार के कामकाज को लेकर विश्वास हो जाता है, तो चुनाव नेता नहीं, जनता खुद आगे बढ़कर लड़ती है. इस बार जनता ने हर जगह यही संदेश दिया है- फिर एक बार ​मोदी सरकार.

विकेटी/एबीएम