पेट्रोल नेपाल, श्रीलंका, भूटान और पाकिस्तान में भारत से 50 रुपये तक है सस्ता

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत के अधिकतर शहरों में पेट्रोल (Petrol) तो पहले ही 100 रुपये प्रति लीटर के पार चला गया था और लगातार बढ़ रही कीमतों की वजह से डीजल भी शतक बनाकर खेल रहा है, जबकि भारत के पड़ोसी देशों जैसे नेपाल, श्रीलंका, पाकिस्तान, बांग्लादेश, भूटान में यहां से काफी सस्ता पेट्रोल (Petrol) बिक रहा है. भारत में पेट्रोल (Petrol) की औसत कीमत 103 रुपये लीटर है. इस लिहाज से अगर देखा जाए तो पाकिस्तान में पेट्रोल (Petrol) की कीमत भारत से तरकीबन आधी है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान में 55.61 भारतीय रुपये प्रति लीटर पेट्रोल (Petrol) बिक रहा है. श्रीलंका में पेट्रोल (Petrol) की कीमत 68.62 रुपये है. भूटान जैसे गरीब देश में भी पेट्रोल (Petrol) की कीमत 77 रुपये लीटर है. नेपाल में 81.51 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल (Petrol) बिक रहा है. इस वजह से नेपाल के सीमावर्ती इलाके में रहने वाले लोग वाहनों में तेल भरवाने के लिए नेपाल की तरफ जा रहे हैं.

तेल की महंगाई के पीछे दो सबसे बड़े कारण है. पहला कच्चा तेल और दूसरा टैक्स. भारत में पेट्रोल-डीजल पर केंद्र सरकार (Central Government)और राज्य सरकारें भारी टैक्स वसूलती हैं. वैट और एक्साइज ड्यूटी मिलाकर करीब 60 फीसद से ज्यादा टैक्स है. इसके अलावा पाकिस्तान और बांग्लादेश समेत ज्यादातर दक्षिण एशियाई देशों में पेट्रोल-डीजल पर 45 से 60 फीसद तक टैक्स है, इस कारण यहां कीमतें कुछ दिनों में लगातार बढ़ी हैं. ओमान, दुबई और ब्रेंट के औसत का प्रतिनिधित्व करने वाले कच्चे तेल की इंडियन बास्केट की कीमत पिछले साल अप्रैल में कोरोनोवायरस महामारी (Epidemic) की पहली लहर के दौरान गिरकर 19.90 डॉलर (Dollar) हो गई थी. इसने केंद्र सरकार (Central Government)को पेट्रोल (Petrol) और डीजल पर टैक्स को तेजी से बढ़ाने का मौका दिया, जिससे उत्पाद शुल्क वित्त वर्ष 2021 में सरकारी खजाने में प्रमुख योगदानकर्ताओं में से एक बन गया. जब तक टैक्स में कटौती नहीं की जाती है तेल की कीमतों में कोई भी बढ़ोतरी उपभोक्ताओं को और परेशान करेगी.

Check Also

विटोल ने सन मोबिलिटी में 370 करोड़ निवेश किया

नई दिल्ली (New Delhi) . इलेक्ट्रिक वाहन ऊर्जा अवसंरचना कंपनी सन मोबिलिटी ने बुधवार (Wednesday) …