मदरसे में हुए बम विस्फोट की जांच के लिए पहुंची पटना की एटीएस की टीम, 7 सदस्य शामिल

बांका . बांका के नवटोलिया स्थित मदरसा-मस्जिद में बम विस्फोट में एक मौलवी की मौत के मामले की जांच के लिए पटना (Patna) से सात सदस्यीय एटीएस पहुंची है. रंजीत कुमार सिंह के नेतृत्व में एटीएस टीम के सदस्य मलवे से कुछ प्रमाण इकट्ठा कर जांच को अंजाम तक पहुंचाने की कोशिश में है. रंजीत सिंह ने बताया कि हमारी जांच की दिशा विस्फोटक के प्रकार की जानकारी लेने के साथ ही यह देखना है कि इस विस्फोट के पीछे कोई मॉड्यूल का हाथ तो नहीं है.

जांच अधिकारी ने बताया कि पहले ही सारे साक्ष्य एफएसएल की टीम ने कलेक्ट कर लिया है. शेष जांच के लिए पटना (Patna) की टीम आई हुई है और साक्ष्य इकट्ठे कर रही है. जांच के विभिन्न बिंदु हैं जिसके बारे में अभी नहीं कहा जा सकता है. दरअसल, विस्फोट टाउन थाना क्षेत्र के नवटोलिया मदरसा भवन के एक कमरे के अंदर हुआ है. इस मामले में पुलिस (Police) ने कहा था कि प्रथम दृष्या तो यह लगता है कि जिलेटिन के कारण यह विस्फोट हुआ है.

इस दौरान मदरसे में दस से अधिक व्यक्ति मौजूद थे. जिस कमरे में धमाका हुआ वह कई दिनों से बंद था. धमाके को दूर-दूर तक सुना गया. पुलिस (Police) का कहना है कि विस्फोट ग्राउंड फ्लोर के एक कमरे में हुआ. इससे मदरसे की दीवारों और छत में दरार आ गई और कमरा गिर गया. वहीं, आस-पास के घरों के शीशे टूट गए. बांका पुलिस (Police) के अलावा बम स्क्वाड, डॉग स्क्वाड और आतंकवाद विरोधी दस्ता घटनास्थल का दौरा कर चुका है.

Check Also

नाबालिग के यौन शोषण केस में ‘पीटर पैन सिंड्रोम’ से पीड़ित आरोपी को मिली जमानत

मुंबई (Mumbai) , . 14 वर्षीय लड़की के अपहरण एवं यौन उत्पीड़न के मामले में …