पटियाला, अमृतसर व फरीदकोट के सरकारी अस्पतालों में होंगे प्रतिदिन 15,000 टैस्ट · Indias News

पटियाला, अमृतसर व फरीदकोट के सरकारी अस्पतालों में होंगे प्रतिदिन 15,000 टैस्ट

चंडीगढ़.मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह के निर्देशों के मुताबिक मैडीकल शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग द्वारा कोविड का रोजाना की टेस्टिंग सामथ्र्य में विस्तार करने के मद्देनजर राज्य में 4 नई कोविड वायरल टेस्टिंग लैब्ज स्थापित की गई हैं. सितम्बर महीने के दौरान इन 4 लैब्ज में प्रतिदिन 4000 टैस्ट (1000 टैस्ट प्रति लैब) टैस्ट करने का सामथ्र्य किया जाएगा. इसके अलावा 31 अगस्त तक पटियाला, अमृतसर और फरीदकोट में स्थित 3 मैडीकल कालेजों में भी टैस्टों की संख्या प्रतिदिन 5000 (प्रति कालेज) हो जाएगी. सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि महामारी से निपटने में पंजाब सरकार का यह प्रयास बहुत सहायक सिद्ध होगा. मैडीकल शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग के प्रमुख सचिव डी.के. तिवाड़ी ने बताया कि लुधियाना की गुरु अंगद देव वैटर्नरी और एनिमल साइंस यूनिवॢसटी ने 5 अगस्त से 100 टैस्ट प्रतिदिन करने का काम शुुरू कर दिया है और सितम्बर महीने के दौरान यह संख्या 1000 टैस्ट प्रतिदिन हो जाएगी.
इसी तरह एस.ए.एस. नगर (मोहाली) में फॉरैंसिक साइंसेज लैब 10 अगस्त को प्रतिदिन 100 टैस्टों के साथ कार्यशील हो जाएगी और 30 अगस्त तक प्रतिदिन 250 टैस्ट, जबकि सितम्बर महीने के दौरान यह संख्या 1000 टैस्ट प्रति दिन तक पहुंच जाएगी. इसी तरह पंजाब बायोटैक्नोलॉजी इनक्यूबेटर अपना कामकाज 10 अगस्त को शुरू करेगा, जिसकी शुरूआती सामथ्र्य 100 टैस्ट प्रतिदिन होगी और 25 अगस्त तक 250 टैस्ट और सितम्बर महीने के दौरान 1000 टैस्ट प्रतिदिन किए जाएंगे. जालंधर में क्षेत्रीय बीमारी डायग्नॉस्टिक लैब प्रतिदिन 25 टैस्टों की सामथ्र्य के साथ शुरू होगी, 20 अगस्त तक 250 टैस्ट और सितम्बर के दौरान यह सामथ्र्य 1000 टैस्ट प्रतिदिन तक बढ़ा दी जाएगी.
राज्य में अब तक 6.15 लाख से अधिक टैस्ट किए जा चुके हैं. 14.47 करोड़ रुपए की लागत के साथ वायरोलॉजी लैब्ज का साजोसामान खरीदा गया है. आर.टी.पी.सी.आर. लैब्ज की स्थापना संबंधी जानकारी देते हुए तिवाड़ी ने बताया कि यह लैब्ज का कॉन्सैप्ट और डिजाइन बनाने से लेकर इमारत मुकम्मल करने का काम रिकॉर्ड 3 महीनों में मुकम्मल कर लिया गया, जबकि इन लैब्ज के लिए अपेक्षित साजोसामान की खरीद संबंधी टैंडरिंग और अप्रूवल का काम 25 दिनों में पूरा किया गया और मशीनरी स्थापित करने का कार्य 15 दिनों में मुकम्मल किया गया. इनके अलावा सबसे अहम काम आई.सी.एम.आर. से अपेक्षित मंजूरी 10 दिन में हासिल की गई. तिवाड़ी ने बताया कि इन लैब्ज का उद्घाटन 10 अगस्त को चिकित्सक शिक्षा एवं अनुसंधान संबंधी मंत्री ओम प्रकाश सोनी और स्वास्थ्य मंत्री पंजाब बलबीर सिंह सिद्धू द्वारा साझे तौर पर किया जाएगा. जबकि लुधियाना स्थित लैब का उद्घाटन ओम प्रकाश सोनी, पशु पालन और डेयरी विकास मंत्री तृप्त राजिंद्र सिंह बाजवा खाद्य एवं सिविल सप्लाई मंत्री भारत भूषण आशु द्वारा किया जाएगा, जबकि जालंधर स्थित लैब के उद्घाटन ओम प्रकाश सोनी और पशु पालन और डेयरी विकास मंत्री तृप्त राजिंद्र सिंह बाजवा द्वारा किया जाएगा.

Check Also

लोकसभा में विदेशी चंदा कानून पारित, NGO रजिस्ट्रेशन के लिए आधार जरूरी

-कानून में लोक सेवक के विदेशों से धनराशि हासिल करने पर पाबंदी का प्रावधान किया …