राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर पूर्व छात्रों और उद्योगपतियों के विचार विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन

उदयपुर (Udaipur). आज अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी महाविद्यालय उदयपुर (Udaipur) में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर पूर्व छात्रों और उद्योगपतियों के विचार विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया.

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. नरेंद्र सिंह राठौड़, कुलपति, महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर (Udaipur) ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के सभी बिंदुओं का विस्तार से विश्लेषण किया एवं बताया कि नई शिक्षा नीति के तहत राष्ट्रीय अनुसंधान फाउंडेशन की स्थापना की जाएगी तथा अनुसंधान गतिविधियां को बढ़ावा दिया जाएगा इसके अंतर्गत भविष्य आधारित पाठ्यक्रम आयोजित किए जाएंगे तथा कौशल विकास से संबंधित पाठ्यक्रम चलाकर ज्यादा से ज्यादा युवाओं को जोड़कर जोड़कर स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत अब छात्र (student) अंग्रेजी के साथ साथ हिंदी एवं क्षेत्रीय भाषाओं में भी डिग्री प्राप्त कर सकेंगे जिससे देश के विकास में और अधिक सहयोग मिलेगा.

इस अवसर पर शिक्षाविद एवं एलुमनी प्रोफेसर आर. के. एरन ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के फ्रेमवर्क तैयार करने में एल्यूमिनी की भूमिका विषय पर व्याख्यान दिया. प्रख्यात उधोगपति ईजि. डी.एस. भंडारी ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति मे उद्योगीक क्षेत्र की भूमिका पर विस्तृत चर्चा की. कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत डॉ. पी. के. सिंह, अधिष्ठाता, प्रौद्योगिकी एवं अभियांत्रिकी महाविद्यालय, उदयपुर (Udaipur) ने किया. धन्यवाद ज्ञापन डॉ. महेश कोठारी विभागाध्यक्ष मृदा एवं जल अभियंत्रिकी विभाग तथा कार्यक्रम का संचालन डॉ. मनजीत सिंह ने किया.

Check Also

वल्र्ड एनेस्थेसिया डे पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

उदयपुर (Udaipur). पेसिफिक इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (पिम्स हॉस्पिटल), उमरड़ा द्वारा वर्ल्‍डएनेस्थेसिया डे पर जागरूकता फैलाने …