ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर ने दो दिन में 1100 करोड़ रुपए की बिक्री का बनाया नया कीर्तिमान

नई दिल्ली (New Delhi) . कैब आधारित टैक्सी सेवा देने वाली मशहूर कंपनी ओला ने अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर की दो दिनी बिक्री में नया कीर्तिमान रचा है, यह रिकॉर्ड लगातार बनाता जा रहा है. पहले एक दिन में 600 करोड़ कीमत की बिक्री पूरी होने के बाद कंपनी ने दूसरे दिन 500 करोड़ के इलेक्ट्रिक स्कूटर बेच डाले. इस तरह कंपनी की दो दिन की बिक्री 1100 करोड़ रुपए से ज्यादा कीमत की हो गई है. बता दें कि कंपनी ने हाल ही में अपने पहले इलेक्ट्रिक स्कूटर को दो वेरिएंट- एस1 और एस1 प्रो में उतारा था, जिनमें ग्राहकों को 180 किमी. तक की ड्राइविंग रेंज मिलती है.

ओला के फाउंडर भाविश अग्रवाल ने अपनी सोशल मीडिया (Media) पोस्ट के जरिए बिक्री के आंकड़े जारी किए हैं. उन्होंने लिखा, ‘दूसरा दिन पहले से भी शानदार रहा. 2 दिन में 1100 करोड़ रुपए की बिक्री पार हो गई. खरीदारी 1 नवंबर को फिर से शुरू होगी.’ बता दें कि कंपनी ने 15 सितंबर से स्कूटर की आधिकारिक बुकिंग शुरू की थी, जो 16 सितंबर तक चली है. भाविश अग्रवाल की मानें तो कंपनी ने हर सेकेंड 4 स्कूटर्स की बिक्री की है.

ओला ई-स्कूटर की कीमत :
जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर दो वेरिएंट- एस1 और एस1 प्रो में आता है. ओला एस1 की कीमत 99,999 रुपए और ओला एस1 प्रो वेरिएंट की कीमत 1,29,999 रुपए है. बिक्री के दिन ग्राहक 20,000 रुपए की न्यूनतम बुकिंग राशि देकर स्कूटर ऑनलाइन बुक कर सकते हैं. हालांकि अगर आप खरीदारी करने से चूक गए हैं, तब भी आप अगली सेल के लिए स्कूटर 499 रुपए में ऑनलाइन बुक कर सकते हैं.

ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर में कंपनी ने 3.9 किलोवाट की क्षमता का बैटरी पैक दिया है और इसका इलेक्ट्रिक मोटर 8.5 किलोवाट का पीक पावर जेनरेट करता है. कंपनी का दावा है कि इसकी बैटरी 750 वोल्ट की क्षमता के पोर्टेबल चार्जर से तकरीबन 6 घंटे में फुल चार्ज हो जाएगी. इसके अलावा कंपनी के सुपरचार्जर से ये बैटरी महज 18 मिनट में ही 50प्रतिशत तक चार्ज हो सकती है. ओला का दावा है कि ये इलेक्ट्रिक स्कूटर एक बार फुल चार्ज होने के बाद 180 से 190 किलोमीटर तक का ड्राइविंग रेंज देता है.

Check Also

एक बार चार्ज करने पर 700 किमी चलेगी नेक्स्ट जेनरेशन बीएमडब्ल्यू-3 सिरीज इलेक्ट्रिक कार

नई दिल्ली (New Delhi) . इलेक्ट्रिक कारें फ्यूचर मोबिलिटी के सबसे बड़े साधन के रूप …