अब मौसम की तर्ज पर प्रदूषण की भी होगी भविष्यवाणी, 15 दिन पहले मिलेगी सटीक जानकारी

नई दिल्ली. मौसम की तर्ज पर अब प्रदूषण की भी सटीक भविष्यवाणी होगी. आईआईटी दिल्ली के विशेषज्ञों ने प्रदूषण की सटीक भविष्यवाणी देने वाली डिवाइस तैयार कर केंद्र सरकार को सौंप दी है. डिवाइस 15 दिन पहले ही जानकारी दे देगी कि कौन से स्थान पर कौन सा कारक पीएम 2.5 स्तर बढ़ाने वाला है. इस डिवाइस के माध्यम से सरकार प्रदूषण फैलाने वाले कारकों की रोकथाम करेगी.

आईआईटी दिल्ली के पर्यावरण व प्रदूषण विशेषज्ञ व सुप्रीम कोर्ट में प्रदूषण रोकथाम के सलाहकार प्रो. मुकेश खरे के मुताबिक, मौसम की तर्ज पर प्रदूषण की सटीक भविष्यवाणी देने वाली डिवाइस तैयार करके सरकार को 15 दिन पहले सौंप दी है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड) इस डिवाइस के माध्यम से काम करेगा. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड जगह-जगह मॉनेटरिंग स्टेशन में इस डिवाइस को जोड़ेगा. इस मॉनेटरिंग स्टेशन के माध्यम से केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को 15 दिन पहले पता चल जाएगा कि किस इलाके का पीएम 2.5 स्तर बढने वाला है. इससे केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड पहले ही प्रदूषण नियंत्रण करने पर काम शुरू कर देगा. वे प्रदूषण बढ़ाने वाले कारकों की रोकथाम कर सकेंगे.

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग पर आधारित है डिवाइस

आईआईटी दिल्ली के विशेषज्ञों ने मौसम की तर्ज पर प्रदूषण की पहले भविष्यवाणी करने के लिए कंप्यूटर प्रोग्रामिंग नामक डिवाइस तैयार की है. आईआईटी दिल्ली के विशेषज्ञ दो साल से इसे तैयार करने में जुटे थे. यह डिवाइस सभी पॉल्यूशन मॉनेटरिंग स्टेशन से जोड़ी जाएगी. डिवाइस सभी पॉल्यूशन मॉनेटरिंग स्टेशन की अलग-अलग मॉनेटरिंग करते हुए अलर्ट जारी कर देगा.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today